टी-20 WC की टीम इंडिया का सलेक्शन यूं हुआ: चहल बाहर तो आए चाहर, सुंदर अनफिट तो अश्विन से भरपाई, श्रेयस पर ईशान किशन को​ ​​प्रिफ्रेंस

                           टी-20 WC की टीम इंडिया सलेक्शन

यूएई में अगले महीने होने वाले टी20 वर्ल्ड के लिए टीम इंडिया का ऐलान कर दिया गया है। 10 नामों पर विचार किया जा रहा था। बाकी 5 का अनुमान लगाया जा रहा था। फिक्स किए गए 10 नामों में युजवेंद्र चहल भी एक थे। हालांकि, चयनकर्ताओं ने कागजात पर हस्ताक्षर कर दिए हैं और चहल घोषित टीम से गायब हैं। श्रीलंका दौरे के कप्तान रहे शिखर धवन भी 15 सदस्यीय टीम का हिस्सा नहीं हैं।

कुछ सवाल उठ रहे हैं। इन्हीं में से एक सवाल कई लोगों के मन में होता है और इसे अहम माना जाता है. और यही वजह है कि श्रेयस अय्यर जैसे टी20 विशेषज्ञ बल्लेबाजों की जगह युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान किशन को चुना गया है? यहां हम कुछ अन्य बातों पर भी एक नजर डालते हैं।

अश्विन की वापसी और चहल बाहर हुए

चयनकर्ताओं को टीम में एक ऑफ स्पिनर को रखना था। अगर वाशिंगटन काफी फिट था, तो उसका चयन होना निश्चित था। इसका कारण यह है कि वह न केवल एक बेहतरीन फील्डर हैं, बल्कि निचले क्रम में बड़े शॉट खेलने की क्षमता भी रखते हैं। 

हालांकि सुंदर के अनफिट होने के कारण चयनकर्ताओं ने एक अनुभवी ऑफ स्पिनर को टीम में जगह दी। हालांकि इंग्लैंड दौरे पर गए अश्विन फिलहाल प्लेइंग 11 से बाहर हैं। जडेजा एकमात्र स्पिनर के तौर पर खेल रहे हैं। यूएई की पिचों के मिजाज को देखते हुए अश्विन बाएं हाथ के बल्लेबाजों के खिलाफ काफी कारगर साबित हो सकते हैं।

युजवेंद्र चहल पांच साल से छोटे प्रारूप में टीम इंडिया का हिस्सा हैं। कुलदीप के साथ उनकी ‘कुलचा’ की जोड़ी भी काफी सफल रही। ये दोनों स्पिनर बुधवार को घोषित 15 खिलाड़ियों की सूची में नहीं हैं। चहल 2016 से टीम इंडिया में खेल रहे हैं। 2019 वनडे वर्ल्ड कप की टीम में भी थे। 2018 एशिया कप में शानदार गेंदबाजी की थी।

गेंदबाजी पर ज्यादा फोकस

टीम में चार विशेषज्ञ स्पिनर हैं। राहुल चाहर, अक्षर पटेल, रविचंद्रन अश्विन और वरुण चक्रवर्ती। बारीकी से देखने पर ऐसा लगता है कि चयनकर्ताओं का ध्यान ‘स्पिन विभाग में वैरायटी’ पर है। राहुल कलाई के स्पिनर हैं और उनके पास अच्छी गुगली है। अक्षर पटेल और कुणाल पांड्या के बीच लड़ाई हुई थी। 

अक्षर का पलड़ा भारी था क्योंकि वह न सिर्फ एक अच्छा स्पिनर है बल्कि बल्लेबाजी में भी काफी दम रखता है। वह बाएं हाथ के तेज और सटीक स्पिनर हैं। क्षेत्ररक्षक बेहतरीन हैं। अश्विन का अनुभव उन्हें औरों से अलग करता है। वरुण चक्रवर्ती को एक मिस्ट्री स्पिनर होने का फायदा हो सकता है, खासकर यूएई के गर्म माहौल और स्पिन के अनुकूल विकेटों पर।

हमारे पास तीन विशेषज्ञ तेज गेंदबाज हैं जो स्विंग और गति दोनों में बेहतरीन हैं। टी20 में रिवर्स स्विंग की गुंजाइश कम होती है, क्योंकि गेंद ज्यादा पुरानी नहीं होती है। फिर अगर रिवर्स स्विंग होती है तो उसके लिए गति अनिवार्य है और हमारे तीनों गेंदबाजों में वह क्षमता है। इंग्लैंड में हम यही देख रहे हैं। इसलिए तेज गेंदबाजों को सही चुना गया है।

 ईशान इन, शिखर को आराम

ईशान इन, शिखर को आराम


श्रीलंका के पिछले दौरे पर गई टीम के कप्तान शिखर धवन थे। वह वनडे और टी20 में ओपनिंग स्लॉट में लगातार मौजूद थे। इस बार वह टीम में नहीं हैं। बुधवार को ही उनकी निजी जिंदगी में भी एक झटका लगा। वह पत्नी आयशा से अलग हो रहे हैं। हालांकि, यह भी सच है कि हाल के महीनों में उनकी फॉर्म में उतार-चढ़ाव रहा है।

अब लगता है कि सिर्फ रोहित और राहुल ही ओपनिंग करेंगे। अगर कोई दिक्कत होती है तो ईशान किशन भी इस भूमिका को निभा सकते हैं। बल्लेबाजी क्रम में अनुभव और आक्रामकता दोनों है। हालांकि विकेटकीपर बल्लेबाज ईशान किशन की जगह विशेषज्ञ बल्लेबाज श्रेयस अय्यर को भी चुना जा सकता था। 

विकेटकीपर बल्लेबाज की भूमिका के लिए अगर किशन को चुना जाता है तो ऋषभ पंत और लोकेश राहुल पहले से ही हैं। अपने नाम राहुल द्रविड़ की तर्ज पर राहुल कई बार टीम इंडिया के लिए विकेटकीपिंग के जरिए एक अतिरिक्त बल्लेबाज की जगह बनाते रहे हैं। 

ऐसे में ईशान किशन के चयन पर सवाल खड़े होते हैं। हो सकता है कि शुरू से ही बड़े शॉट खेलने की कला के कारण ईशान किशन को जगह दी गई हो।

धोनी की मौजूदगी से ही टीम को मिलेगा हौसला

टीम के साथ मेंटर की भूमिका में पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी होंगे। इसका सीधा फायदा टीम इंडिया को मिलना तय माना जा रहा है। टी20 में नर्व्स  कंट्रोल को अह और जरूरी माना जाता है और धोनी को कैप्टन कूल कहा जाता है। 2007 के पहले टी20 वर्ल्ड कप में धोनी ने आखिरी ओवर जोगिंदर शर्मा को देकर हैरान कर दिया था। 

भारत ने वहां खिताब जीता। अब धोनी नए रोल में होंगे और मैदान के बाहर बैठ कर टीम को गाइडेंस देंगे। वहीं विराट कोहली भी धोनी का गुरुमंत्र हासिल करना चाहेंगे और आईसीसी ट्रॉफी जीतना चाहेंगे। 

20 WC | T20 World Cup Team India | Team India For ICC Mens T20 World Cup | Ashwin Picked And Yuzvendra Chahal Dropped | How team India selection | 

Was This Article Helpful?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *