Microsoft ने Apple को पछाड़ा: Microsoft बनी दुनिया की सबसे वैल्युएबल कंपनी, सप्लाई चेन के प्रभाव से Apple पिछड़ा

Microsoft ने Apple को पछाड़ा

Apple को पछाड़कर Microsoft एक बार फिर दुनिया की सबसे वैल्युएबल कंपनी बन गई है। शुक्रवार को माइक्रोसॉफ्ट का मार्केट कैप 2.46 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंच गया, जबकि ऐप्पल का मार्केट कैप 2.43 ट्रिलियन डॉलर था। एपल के चौथी तिमाही के नतीजे उम्मीद के मुताबिक नहीं आए हैं, जिसके चलते यह बदलाव देखने को मिला है।

एपल के शेयरों में 2.27% की गिरावट

भारतीय समयानुसार रात करीब 10 बजे एपल के शेयर 2.27% की गिरावट के साथ 149.16 डॉलर पर कारोबार कर रहे थे, जबकि माइक्रोसॉफ्ट के शेयर 1.34% की तेजी के साथ 328.69 डॉलर पर कारोबार कर रहे थे। माइक्रोसॉफ्ट के शेयर में 329.52 डॉलर की ऊंची छलांग और 323.90 डॉलर की गिरावट देखी गई। Apple के शेयर ने $146.41 का निचला स्तर और $147.22 का उच्च स्तर बनाया।

सप्लाई चेन बाधित होने से हुआ नुकसान

चौथी तिमाही में iPhone की बिक्री साल-दर-साल 47% बढ़ी, लेकिन विश्लेषकों की उम्मीदों से कम रही। Apple के सीईओ टिम कुक ने कहा कि आपूर्ति श्रृंखला प्रभावित होने के कारण $ 6 बिलियन की राजस्व कमी का अनुमान लगाया गया है। उन्होंने दिसंबर में आपूर्ति श्रृंखला की स्थिति और खराब होने की आशंका जताई है।

ये भी पढ़ें- क्या वाकई 5G तकनीक खतरनाक है? जानिए वो सबकुछ जो आप फिफ्थ जेनरेशन, ब्रॉडबैंड सेल्युलर नेटवर्क के बारे में जानना चाहते हैं

Apple ने सऊदी अरामको को हराया

ऐपल पहली कंपनी थी जिसने 1 ट्रिलियन डॉलर और 2 ट्रिलियन डॉलर के मार्केट कैप तक पहुंच गया था। पिछले साल जुलाई 2020 में, यह दुनिया की सबसे वैल्युएबल सार्वजनिक रूप से कारोबार करने वाली कंपनी बन गई, जिसने मार्केट कैप में तेल कंपनी सऊदी अरामको को पीछे छोड़ दिया।

Microsoft ने 2020 में Apple को पछाड़ा

माइक्रोसॉफ्ट ने आखिरी बार 2020 में मार्केट कैप के मामले में एपल को पीछे छोड़ा था। उस समय भी कोरोना महामारी के कारण सप्लाई चेन प्रभावित हुई थी। इस साल माइक्रोसॉफ्ट का स्टॉक 45 फीसदी से ज्यादा चढ़ा है। वहीं, एपल के शेयरों में सिर्फ 15 फीसदी की तेजी आई है।

ये भी पढे़ं –   अब ट्वीटर को टक्कर देगी koo ऐप, मिली 218 करोड़ रुपये की फंडिंग, वर्तमान में 60 लाख से ज्यादा यूजर्स

महामारी में बिग माइक्रोसॉफ्ट की क्लाउड सेवा की मांग

महामारी के दौरान Microsoft की क्लाउड-आधारित सेवा की मांग में काफी वृद्धि हुई, जिसके कारण इसके स्टॉक में इतनी वृद्धि देखी गई। Microsoft जून में पहली बार $ 2 ट्रिलियन मार्केट कैप से ऊपर बंद हुआ।

Move Over Apple  | Microsoft Now The World’s Most Valuable Company | Apple |  Microsoft  | tech latest news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *