कोरोना की दूसरी लहर: विश्व स्वास्थ्य संगठन की चेतावनी- महामारी का दूसरा दौर आएगा, सिर्फ ये मानकर न बैठे रहें कि मामले घट रहे हैं Read it later

WHO twitter
image courtesy- twitter 

विश्व स्वास्थ्य संगठन के इमरजेंसी प्रमुख डॉ. माइक रेयान ने चेतावनी देकर कहा- जहां मामले घट रहे, उन देशों में भी खतरा
रेयान ने कहा- महामारी दौर के रूप में आती है, कोरोना संक्रमण का दूसरा दौर भी आ सकता है

न्यूज़ एजेंसी | विश्व स्वास्थ्य संगठन (डल्बूएचओ) ने उन देशों को चेतावनी दी है जहां कोरोना संक्रमण के मामले कम हो रहे हैं। डब्ल्यूएचओ के मुताबिक- जहां मामले घट रहे है, वहां ये अचानक बढ़ भी सकते है। इसलिए सिर्फ देखते न रहें। सरकारों को चाहिए कि वे महामारी रोकने के उपायों के साथ तैयार रहें।
डब्ल्यूएचओ के इमरजेंसी प्रमुख डॉ. माइक रेयान ने कहा, “दुनिया कोरोना संक्रमण की पहली लहर से जूझ रही है। कई देशों में मामले घट रहे हैं। मध्य और दक्षिण अमेरिका, दक्षिण एशिया और अफ्रीका में मामले बढ़ रहे हैं।”
रेयान ने कहा, “महामारी वेब्स यानी लहरों के रूप में आती हैं। इसका मतलब है कि ये इसी साल उन क्षेत्रों में दोबारा आ सकती है, जहां मामले थम रहे हैं। अगर वर्तमान में चल रहे संक्रमण के पहले दौर को रोक भी लिया गया तो भी अगली बार संक्रमण की दर बेहद तेज होने की आशंका है।

सिर्फ ये मानकर न बैठें कि मामले घट रहे हैं

डॉक्टर रेयान के मुताबिक, “यह समझने की जरूरत है कि महामारी दोबारा उभर सकती है। हम सिर्फ ये मानकर नहीं बैठ सकते कि आंकड़ों में कमी आ रही और संकट कम हो रहा है। इसका दूसरा दौर भी आ सकता है।”

यूरोपीय देशों और अमेरिका को भी चेताया

उन्होंने कहा, “यूरोप और उत्तरी अमेरिका को बचाव की कोशिश करते रहने चाहिए। लगातार जांच के साथ बचाव की रणनीति बनाते रहने की जरूरत है, ताकि दूसरे दौर पर पहुंचने से खुद को रोक सकें। कई यूरोपीय देशों और अमेरिकी राज्यों ने लॉकडाउन के साथ उन उपायों से भी मुंह मोड़ लिया है जो संक्रमण को रोकते हैं। ये अर्थव्यवस्था को भी ठीक रखते हैं। 

Was This Article Helpful?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *