उपहार अग्निकांड में अंसल भाइयों को राहत, सजा के ऐलान के बाद हुए रिहा

 

PATIALA HOUSE COURT
फाइल फोटो।

दिल्ली की एक अदालत ने उपहार मामले (UPHAAR KAND) में सबूतों से छेड़छाड़ मामले में सजा सुनाए जाने के बाद मंगलवार को गोपाल अंसल और सुशील अंसल को रिहा कर दिया। (PATIALA HOUSE COURT) अदालत की घोषणा के अनुसार जितनी सजा सुनाई गई उतनी सजा वे पहले ही काट चुके हैं।

अदालत का फैसला सुनकर शिकायतकर्ता नीलम कृष्णमूर्ति रोने पड़ी।  न्यायमूर्ति धर्मेश शर्मा ने उन्हें यह कहते हुए सांत्वना दी कि उनके नुकसान की भरपाई कोई नहीं कर सकता, लेकिन मामले में दोषियों की उम्र पर विचार किया जाना था।

मामला उपहार सिनेमा में आग से संबंधित है, जहां 13 जून, 1997 को हिंदी फिल्म बॉर्डर दिखाने के दौरान लापरवाही के चलते आग लगने से 59 लोगों की मौत हो गई थी। 2015 में, एक ट्रायल कोर्ट ने उपहार सिनेमा के मालिक अंसल ब्रदर्स को दोषी ठहराया था।

इससे पहले 9 नवंबर 2021 को चीफ मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट ने असल बंधुओं को सबूतों से छेड़छाड़ का दोषी करार देते हुए 7 साल कैद की सजा सुनाई थी और दोनों को मुआवजे की राशि के साथ-साथ 2.25-2.25 करोड़ रुपये का जुर्माना भी भरने की भी सजा सुनाई गई थी।

एक दिन पहले कहा था राहत नहीं दी जा सकती

एक दिन पहले हुई सुनवाई में पटियाला हाउस कोर्ट ने उपहार सिनेमा हादसे के दोषी सुशील अंसल और गोपाल अंसल की सजा बरकरार रखी थी कोर्ट ने कहा था कि सबूतों से छेड़छाड़ करने पर अंसल बंधुओं को कोई राहत नहीं दी जा सकती है।

कोर्ट ने कहा था कि सीबीआई की जांच में कई तथ्य सामने आए हैं। सबूतों के साथ छेड़छाड़ की गई है। इससे पहले भी आरोपियों की ओर से सजा निलंबित कर जमानत पर रिहा करने की मांग की गई थी, जिसे अदालत ने खारिज कर दिया था।

1997 में सिनेमा हॉल में क्या हुआ था

13 जून 1997 को दिल्ली के उपहार सिनेमा हॉल में हिंदी फिल्म बॉर्डर की स्क्रीनिंग के दौरान भीषण आग लग गई। उस आग में सिनेमा हॉल में फंसने से 59 दर्शकों की मौत हो गई थी। जांच में पता चला कि सिनेमा हॉल से आने-जाने का रास्ता अतिरिक्त सीट लगाकर संकरा कर दिया गया था।

मामले की सुनवाई के दौरान अंसल बंधुओं पर याचिकाकर्ताओं को धमकाने और कोर्ट स्टाफ से मिलीभगत कर कोर्ट की फाइलों से छेड़छाड़ की गई। फाइलों से पन्ने फाड़े गए और गायब हो गए। यह मामला उपहार त्रासदी पीड़ित संघ (एवीयूटी) की अध्यक्ष नीलम कृष्णमूर्ति ने अदालत में दायर किया था।

उपहार कांड  | पटियाला हाउस कोर्ट  | अंसल बंधु  | UPHAAR KAND  | PATIALA HOUSE COURT  | ANSAL BROTHERS | 

ये भी पढ़ें 

डोनाल्ड ट्रंप की पहली पत्नी IvanaTrump की मौत:20 साल छोटे मॉडल से चौथी शादी की, हमेशा अपने बयानों से सुर्खियों में रहीं

दिल्ली में पिता को ​पीटने वाले शख्स पर नाबालिग ने चलाई गोली, घटना CCTV में कैद 

Rajasthan Monsoon : गंगानगर में भारी बारिश का 44 साल का रिकॉर्ड ध्वस्त, सेना ने मोर्चा संभाला 

पेंटर मजदूर को IT ने भेजा 66 करोड़ का नोटिस, जानें पूरा माजरा

कोर्ट में रूबैया सईद की 33 साल बाद गवाही, कहा- यासीन मलिक ने किया था मुझे किडनैप 

आजादी से भी पुरानी विदेश जाकर कमाने और बसने की चाह पूरी करने वाली कबूतरबाजी अब भी कायम क्यों- इसे यूं समझिए

हजयात्रा में मुस्लिम क्या करते हैं, क्या है हज?

श्रीलंका में जनता बेकाबू, प्रेसीडेंट हाउस को घेरा, राष्ट्रपति देश से फरार‚ प्रधानमंत्री का भी इस्तीफा‚  ताजा अपडेट में देखें पूरा हाल

छत्तीसगढ़ में निर्भया जैसी हैवानियत:दुष्कर्म कर गुप्तांग में तवे का मूठ डाला, महिला ने बचाव की कोशिश की तो कर दी हत्या 

 ये क्यूट Rain Bugs क्यों हो रहे विलुप्त!

हॉलीवुड स्टार टॉम क्रूज की लाइफ स्टोरी के बारे में और ज्यादा व पूरी जानकारी यहां देखें

 मूसेवाला का SYL गाना बैन: बंदी सिखों की रिहाई और पंजाब-हरियाणा के विवादित नहर के मुद्दे की बात, YouTube से भी हटाया

Elon Musk ने फिर क्यों कहा ज्यादा बच्चे पैदा करो, भविष्यवाणी की – जापान दुनिया से गायब हो जाएगा

अर्नब की चैट में नए खुलासे: अर्नब को पहले से ही सरकार के कई फैसले पता थे; चाहे वो बालाकोट स्ट्राइक हो या कश्मीर में 370 को हटाने का फैसला

BIHAR ELECTION 2020 : चुनाव से पहले NDA में दरार दिखी, LJP ने नितीश के नेतृत्व को नकारा, लेकिन BJP से एलाइंस को तैयार 

Was This Article Helpful?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *