बिहार चुनाव LIVE: रुझानों में महागठबंधन की बन गई सरकार, 128 सीटों पर बढ़त; NDA 108 सीटों पर आगे Read it later

 

Bihar Elections Exit Poll 2020
image credit | indianexpress.com

बिहार चुनाव में वोटों की काउंटिंग जारी है। रुझानों में महागठबंधन 108 और NDA 94 सीटों पर आगे है। तेजस्वी-तेजप्रताप, लव सिन्हा और जीतनराम मांझी बढ़त बनाए हुए हैं।  मधेपुरा से पप्पू यादव पीछे चल रहे हैं। तीन फेज में हुए चुनाव में 7.34 करोड़ वोटरों में से 57.05% ने वोटिंग की। 2015 में 56.66% वोटिंग हुई थी। इस बार 3,733 उम्मीदवार मैदान में हैं, जिनमें से 3,362 पुरुष, 370 महिला और 1 ट्रांसजेंडर है।

अपडेट्स…

2019 लोकसभा चुनाव में 223 विधानसभा सीटों पर आगे था एनडीए

2019 में हुए लोकसभा चुनाव में बिहार की 40 में 39 सीटें एनडीए को मिली थीं। सिर्फ एक सीट पर कांग्रेस का उम्मीदवार जीता था। लोकसभा के नतीजों को अगर विधानसभा क्षेत्र के हिसाब से देखें तो एनडीए को 223 सीटों पर बढ़त मिली थी। इनमें से 96 सीटों पर भाजपा तो 92 सीटों पर जदयू आगे थी। लोजपा 35 सीटों पर आगे थी।

एक सीट जीतने वाला महागठबंधन विधानसभा के लिहाज से 17 सीटों पर आगे था। इनमें 9 सीट पर राजद, 5 पर कांग्रेस, दो पर हम (सेक्युलर) जो अब एनडीए का हिस्सा है और एक सीट पर रालोसपा को बढ़त मिली थी। अन्य दलों में दो विधानसभा क्षेत्रों में एआईएमआईएम और एक पर सीपीआई एमएल आगे थी।

2015 में साथ लड़े थे राजद और जदयू

2015 के चुनाव में राजद, जदयू और कांग्रेस ने साथ मिलकर महागठबंधन बनाया था। इस गठबंधन को 178 सीटें मिलीं थी। लेकिन, डेढ़ साल बाद ही नीतीश महागठबंधन से अलग होकर एनडीए में चले गए। इस चुनाव में एनडीए में भाजपा, VIP और हम (सेक्युलर) के साथ जदयू भी है। वहीं, पिछले चुनाव में एनडीए का हिस्सा रही रालोसपा और लोजपा के साथ है।

मुख्यमंत्री पद के दावेदार

नीतीश कुमार: 2010 के चुनाव में नीतीश एनडीए की ओर से तो 2015 में महागठबंधन की ओर से मुख्यमंत्री पद का चेहरा थे। इस बार फिर वो एनडीए की ओर से सीएम फेस हैं। पिछले 15 साल से राज्य में नीतीश की पार्टी सत्ता में है। इनमें 14 साल से ज्यादा नीतीश ही मुख्यमंत्री रहे हैं।

तेजस्वी यादव: महागठबंधन की ओर से इस बार तेजस्वी यादव मुख्यमंत्री का चेहरा हैं। लालू यादव के जेल जाने के बाद महागठबंधन की सबसे बड़ी पार्टी राजद का चेहरा तेजस्वी ही हैं। पूरा चुनाव महागठबंधन ने तेजस्वी के चेहरे पर ही लड़ा है। पार्टी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव प्रचार के पोस्टर तक से गायब थे।

ये भी पढ़ें –

आजाद भारत का सबसे बड़ा गैंगरेप स्कैंडल: 30 साल पहले 100 लड़कियों से यौन शोषण‚ अजमेर दरगाह के खादिम ने दिया था घटना को अंजाम, अब नूपुर के सिर पर इनाम देकर सलमान चिश्ती चर्चा में

छत्तीसगढ़ में निर्भया जैसी हैवानियत:दुष्कर्म कर गुप्तांग में तवे का मूठ डाला, महिला ने बचाव की कोशिश की तो कर दी हत्या 

 एक झटके में ब्रिटेन के वित्तमंत्री का पद छोड़ने वाले भारतीय मूल के ऋषि सुनक आखिर कौन हैं?

 Rishi Sunak Resignation: ब्रिटेन के फाइनेंस मिनिस्टर ऋषि सुनक ने क्यों दिया इस्तीफा, बोरिस पर लगाए ये आरोप

 ये क्यूट Rain Bugs क्यों हो रहे विलुप्त!

हॉलीवुड स्टार टॉम क्रूज की लाइफ स्टोरी के बारे में और ज्यादा व पूरी जानकारी यहां देखें

 मूसेवाला का SYL गाना बैन: बंदी सिखों की रिहाई और पंजाब-हरियाणा के विवादित नहर के मुद्दे की बात, YouTube से भी हटाया

Elon Musk ने फिर क्यों कहा ज्यादा बच्चे पैदा करो, भविष्यवाणी की – जापान दुनिया से गायब हो जाएगा

 Amit Shah Interview: गुजरात दंगों पर गृहमंत्री अमित शाह बोले-सुप्रीम कोर्ट के फैसले ने सिद्ध कर दिया कि आरोप पॉलिटिकली मोटिवेटिड थे, पढ़िए पूरे इंटरव्यू में और क्या कहा?

सिर्फ नाक-मुंह नहीं पीछे गूदा द्वार से भी इंसान सांस ले सकेंगे, जानिए पूरा मामला

Alt News के ‘फैक्ट चेकर’ मोहम्मद जुबैर कौन हैं? इन्हीं ने नुपुर शर्मा के बयानों को ट्वीट किया था 

 100 महिलाओं की लाशों से दुष्कर्म करने वाले हैवान को 34 साल बाद मिलेगी जुर्म की सजा

मृत्यु के बाद भी: ये कम्यूनिस्ट नेता आज भी सजे हैं मकबरों में, 100 साल पुराने इस राजा का लिंग भी संरक्षित‚  जानिए कैसे सहेजे जाते हैं अंग और शव

Like and Follow us on :

Telegram  Facebook  Instagram  Twitter  Pinterest  Linkedin

Was This Article Helpful?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *