World Boxing Championship: निखत जरीन ने जीता गोल्ड, फाइनल में थाईलैंड की जुटामास जितपोंग को दी शिकस्त, 4 साल बाद भारत की झोली में स्वर्ण Read it later

Nikhat Zareen

भारतीय मुक्केबाज निखत जरीन (Nikhat Zareen) ने महिला विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप (World Boxing Championship) में देश के लिए एकमात्र गोल्ड मेडल जीता। 25 वर्षीय निकहत ने फ्लाईवेट वर्ग (52 किग्रा) के फाइनल में थाईलैंड के जुटामास जितपोंग को हराया। भारत के युवा मुक्केबाज ने यह मुकाबला एकतरफा अंदाज में 5-0 से जीत लिया। महिला विश्व चैंपियनशिप में भारत को 4 साल बाद गोल्ड मिला है। इससे पहले 2018 में एमसी मैरी कॉम चैंपियन बनी थीं।

भारत का अब तक का 10वां स्वर्ण

भारत ने महिला विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप (women’s world boxing championship)  के इतिहास में 10वां गोल्ड मेडल जीता है। एमसी मैरी कॉम ने अकेले 6 गोल्ड मेडल जीते। इन दोनों के अलावा सरिता देवी, जेनी आरएल और लेखा सी ने भी देश के लिए गोल्ड मेडल जीता है।

ONE FOR THE HISTORY BOOKS ✍️ 🤩

⚔️@nikhat_zareen continues her golden streak (from Nationals 2021) & becomes the only 5️⃣th 🇮🇳woman boxer to win🥇medal at World Championships🔥

Well done, world champion!🙇🏿‍♂️🥳@AjaySingh_SG#ibawwchs2022#IstanbulBoxing#PunchMeinHaiDum#Boxing pic.twitter.com/wjs1mSKGVX

— Boxing Federation (@BFI_official) May 19, 2022

चैंपियनशिप के इतिहास में भारत तीसरा सबसे सफल देश

भारत ने इस बार 1 गोल्ड और 2 ब्रॉन्ज जीता है। (World Boxing Championship) अब तक हुए 12 टूर्नामेंट में भारत को कुल 10 गोल्ड, 8 सिल्वर और 19 ब्रॉन्ज मेडल मिले हैं। भारत इस स्पर्धा में 37 पदकों के साथ तीसरा सबसे सफल देश है। रूस ने सबसे ज्यादा 60 और चीन ने 50 पदक जीते हैं। इस प्रतियोगिता में भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 2006 में रहा है जब देश ने चार स्वर्ण, एक रजत और तीन कांस्य सहित आठ पदक जीते थे।

Nikhat Zareen

पहले दौर में मजबूत खेल, दूसरे में पिछड़ा

निखत (Nikhat Zareen) ने बाउट शानदार शुरुआत की और 5-0 के अंतर से पहले दौर में जीत हासिल की। दूसरे दौर में, थाई मुक्केबाज ने वापसी की, इसे 3-2 से जीत लिया और बाउट में वापसी का संकेत दिया। निखत ने तीसरे दौर में फिर से ताकत हासिल की और कुल मिलाकर 5-0 के अंतर से मुकाबला जीत लिया। यहां 5-0 का मतलब है कि मैच के सभी पांचों लाइन जजों ने निकहत को विजेता माना।

हर मुकाबले में निकहत की एकतरफा जीत

पूरे टूर्नामेंट में निखत बेहतरीन फॉर्म में दिखीं। इसका प्रमाण यह है कि उन्होंने सभी मैच 5-0 से एकतरफा अंदाज में जीते। निखत (Nikhat Zareen) ने राउंड ऑफ 32 में मैक्सिको की फातिमा हेरेरा को हराया। 16वें राउंड में उन्होंने मंगोलिया की अपनी प्रतिद्वंद्वी को हराया। भारतीय मुक्केबाज ने क्वार्टर फाइनल में इंग्लैंड की चार्ली डेविसन को हराया। इसके बाद सेमीफाइनल में ब्राजील की कैरोलिन डी अल्मेडा और फाइनल में थाईलैंड के जुटामास जितपोंग को हराकर देश के लिए स्वर्ण पदक जीता।

Nikhat Zareen | World Women’s Boxing Championship | world boxing championship belt | women’s world boxing championship | nikhat zareen family | nikhat zareen biography | mary kom vs nikhat zareen | nikhat zareen news | 

Was This Article Helpful?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *