तालिबान आतंकियों का अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड पर भी कब्जा: तालिबान लड़ाकों को लेकर ऑफिस पहुंचा पूर्व अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर अब्दुल्ला मजारी

तालिबान आतंकियों का अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड पर भी  कब्जा

अफगानिस्तान में इस समय दहशत का माहौल है। तालिबान ने वहां सत्ता कब्जे में ले ली है। अब वह एक के बाद एक अफगानिस्तान की सभी संस्थाओं पर कब्जा जमा रहा है। क्रिकेट भी इसकी नजर से बच पाया।  

तालिबान लड़ाके गुरुवार को अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड कार्यालय में घुस गए। अफगानिस्तान का पूर्व अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर अब्दुल्ला मजारी खुद तालिबान लड़ाकों को बोर्ड कार्यालय लेकर गया।

दावा- तालिबान का क्रिकेट को सपोर्ट 

अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड के सीईओ हमीनाद शिनवारी ने लोगों को आश्वस्त किया है कि वहां क्रिकेट सुरक्षित है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा- तालिबानी क्रिकेट से प्यार करते हैं। 

उन्होंने शुरू से ही हमें अपना समर्थन दिया है। अफगानिस्तान के सभी क्रिकेटर और उनके परिवार के सदस्य भी सुरक्षित हैं।

स्टेडियम्स पर भी तालिबान ने कब्जा जमाया 

तालिबान लड़ाकों ने अफगानिस्तान के छह बड़े क्रिकेट स्टेडियम्स को भी हथिया लिया है। इनमें काबुल का स्टेडियम भी शामिल है। 

अफगानिस्तान क्रिकेट से जुड़े ज्यादातर अधिकारी दावा कर रहे हैं कि देश में खेलने के हालात नहीं बिगड़ेंगे और अफगानिस्तान की टीम अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट में भाग लेती रहेगी।

टी20 वर्ल्ड कप में खेलेगा अफगानिस्तान

कुछ दिन पहले अफगानिस्तान क्रिकेट टीम की पुष्टि करते हुए हेकमत हसन ने लिखा था कि वहां की टीम यूएई में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप में हिस्सा लेगी। 

अफगानिस्तान ने टॉप-8 टीमों में शामिल होकर सीधे विश्व कप के लिए क्वालीफाई कर लिया है। अफगानिस्तान की टीम श्रीलंका में पाकिस्तान के खिलाफ सीरीज भी खेलेगी। 

अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज के साथ त्रिकोणीय टी20 सीरीज के आयोजन पर भी काम कर रहा है। वेन्यू को लेकर श्रीलंका और मलेशिया से बातचीत चल रही है।

  • Taliban Afghanistan Kabul Capture LIVE Update | 
  • US Military Withdrawal |  Afghanistan Update | 

  • Taliban Entered Afganistan Cricket Board Office | 
  • Former International Cricketer Abdullah Mazari Arrived With The Taliban | 

  • The Board Is Issuing The Message Of Normalcy

Was This Article Helpful?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *