WhatsApp प्राइवेसी पॉलिसी : यूजर्स को सही जानकारी देने के लिए कंपनी ने कैंपेंन चलाया, जानिए अगर 15 मई तक पॉलिसी स्वीकार नहीं करेंगे तो क्या होगा?

WhatsApp

WhatsApp अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर लंबे समय से विवादों में रहा है। कई यूजर्स ने इसके विरोध में अन्य प्लेटफार्मों पर स्विच करना शुरू कर दिया है। वहीं, कंपनी ने कहा है कि वह पॉलिसी अपडेट के साथ आगे बढ़ेगी, लेकिन यूजर्स को पूरी जानकारी दिए बिना नहीं।

क्या आप जानते हैं कि अगर आप 15 मई तक व्हाट्सएप की इस नई पॉलिसी को स्वीकार नहीं करेंगे तो क्या होगा? कंपनी ने इन सभी सवालों का जवाब अपने फेसबुक ब्लॉग पर दिया है।

अगर हम नई नीति को स्वीकार नहीं करेंगे तो क्या होगा?

अगर यूजर्स ने 15 मई तक व्हाट्सएप की नई प्राइवेसी पॉलिसी को स्वीकार नहीं किया है, तो व्हाट्सएप यूजर्स के खाते को तुरंत नहीं हटाएगा। हालांकि, कंपनी का कहना है कि पॉलिसी स्वीकार होने तक उसे सभी कार्यों का लाभ नहीं मिलेगा।

कुछ समय के लिए, यूजर्स कॉल और सूचनाएं प्राप्त कर सकेंगे, लेकिन ऐप से न तो संदेश पढ़ पाएंगे और न ही संदेश भेज पाएंगे। कुछ समय का अर्थ है कि यदि यूजर्स नीति को स्वीकार नहीं करते हैं, तो भी वे कुछ हफ्तों के लिए व्हाट्सएप का उपयोग कर पाएंगे।

इसके अलावा, व्हाट्सएप यूजर्स को कुछ और विकल्प भी प्रदान करेगा। यूजर्स 15 मई के बाद भी एप का अपडेट पा सकेंगे। 15 मई से पहले, आप अपने चैट इतिहास को Android या iPhone पर निर्यात करने में सक्षम होंगे। इसके साथ ही आप अकाउंट रिपोर्ट भी डाउनलोड कर सकते हैं।

डि​लीट हुए अकाउंट को दुबारा नहीं हासिल कर पाएंगे 

यदि आप अपने Android, iPhone या KaiOS डिवाइस से अपना खाता हटाते हैं, तो इसे दुबारा हासिल नहीं किया जा सकेगा। आपके मैसेज और डेटा पूरी तरह से हटा दिए जाएंगे और आपको सभी व्हाट्सएप ग्रुप्स से भी हटा दिया जाएगा। कंपनी के मुताबिक व्हाट्सएप बैकअप भी डिलीट कर दिया जाएगा।

व्हाट्सएप ने यूजर को सही जानकारी देने के लिए अभियान शुरू किया

कंपनी ने कहा कि “हमने बहुत से लोगों से सुना है कि हमारे हाल के अपडेट के बारे में भ्रम है। इसे हल करने के लिए हम हर किसी को हमारे सिद्धांतों और तथ्यों को समझने में मदद करना चाहते हैं।”

व्हाट्सएप ने नई नीति के बारे में यूजर्स को बताने के लिए एक नया अभियान शुरू किया है। व्हाट्सएप अब चैट विंडो के शीर्ष पर एक छोटा बैनर दिखाएगा। व्हाट्सएप एक-दो हफ्ते में यूजर्स के लिए छोटे बैनर दिखाना शुरू कर देगा। बैनर के माध्यम से, व्हाट्सएप उपयोगकर्ताओं को सूचित करेगा कि नीतियां कैसे बदलें और व्हाट्सएप यूजर्स से कितनी जानकारी एकत्र करेगा।

यूजर्स को पहले नीतियों की समीक्षा करने और फिर उन्हें स्वीकार करने का विकल्प दिया जाएगा। चैट के शीर्ष पर बैनर दिखाई देगा और यूजर्स को ‘टैप टू रिव्यू’ पर क्लिक करना होगा। एक बार रोलआउट होने के बाद, व्हाट्सएप यूजर्स को गोपनीयता की शर्तों को पढ़ने और फिर नए अपडेट को स्वीकार करने के लिए याद दिलाएगा।

क्या मामला था

जनवरी में, व्हाट्सएप ने यूजर्स को 8 फरवरी को लागू होने वाली अपनी नई प्राइवेसी पॉलिसी के बारे में इन-ऐप अधिसूचना के माध्यम से सूचित किया। व्हाट्सएप ने यह भी कहा कि यदि यूजर्स नीति को स्वीकार नहीं करते हैं, तो वे अपने व्हाट्सएप खाते तक पहुंच खो देंगे। इससे पहले, इस नीति को स्वीकार करने की समय सीमा 8 जनवरी थी। हालांकि, लगातार हो रहे विरोध के चलते कंपनी ने इसकी तारीख बढ़ाकर 15 मई कर दी है।

Was This Article Helpful?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *