तमिल या अंग्रेजी की जगह हिंदी में सवाल पूछने पर सियासी संग्राम, बीजेपी नेता ने कन‍िमोझी पर कसा तंज

बीजेपी नेता ने कन‍िमोझी पर कसा तंज

कनिमोझी ने अपने साथ हुई घटना पर आपत्ति जताते हुए पूछा कि क्या एक भारतीय होना हिंदी जानने के बराबर हो गया है? उनके इस ट्वीट पर बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव बीएल संतोष ने तंज कस डाला

हिंदी में सवाल पूछने का विवाद अब एक राजनीतिक रंग है

द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (DMK) के नेता कनिमोझी के हिंदी में सवाल पर उठने वाला विवाद अब राजनीतिक मोड़ लेने लगा है। दरअसल, DMK नेता कनिमोझी ने ट्वीट किया था जिसमें उन्होंने आरोप लगाया था कि जब उन्होंने CISF अधिकारी से हवाई अड्डे पर तमिल या अंग्रेजी में बात करने के लिए कहा, तो अधिकारी ने उनसे पूछा कि क्या वह भारतीय नहीं हैं?

Assembly elections are 8 months away … Campaign starts . https://t.co/7Be6JgYxVT

— B L Santhosh (@blsanthosh) August 9, 2020

क्या एक भारतीय होना हिंदी जानने के बराबर है

कनिमोझी ने इस घटना पर आपत्ति जताई और पूछा कि जब भारतीय होना हिंदी जानने के बराबर हो गया है? उनके इस ट्वीट की बीजेपी राष्ट्रीय महासचिव बीएल संतोष ने निंदा की है। कनिमोझी के ट्वीट पर, संतोष ने कहा कि विस चुनाव का अभियान शुरू हुआ।


DMK ने केंद्र की नई शिक्षा नीति के तहत प्रस्तावित ‘थ्री लैंग्वेज फॉर्मूला’ पर नाराजगी जताई है

बता दें कि दक्षिण भारत के तमिलनाडु राज्य की राजनीति में भाषा की बड़ी भूमिका है। तमिलनाडु के सभी राजनीतिक दल उत्तर भारत और केंद्र सरकार की सरकारों पर हिंदी भाषा थोपने का आरोप लगाते रहे हैं। द्रमुक ने हाल ही में केंद्र की नई शिक्षा नीति के तहत प्रस्तावित ‘थ्री लैंग्वेज फॉर्मूला’ का विरोध किया था। सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक ने भी ‘थ्री लैंग्वेज फॉर्मूला’ का विरोध किया है।


यह घटना बेहद आपत्तिजनक और हास्यास्पद है- चिदंबरम

इधर, कांग्रेस नेता कार्ति पी चिदंबरम ने भी द्रमुक सांसद कनिमोझी के साथ घटना का विरोध किया। पी चिदंबरम के बेटे कार्ति पी चिदंबरम ने कहा कि यह घटना बहुत ही आपत्तिजनक और हास्यास्पद है, इसकी हमेशा कड़ी आलोचना की जानी चाहिए। अब भाषा का परीक्षण किया जा रहा है, आगे क्या होगा? इस मामले पर CISF को जवाब देना चाहिए।

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह की बड़ी घोषणा, 101 रक्षा उत्‍पादों के आयात पर लगेगी रोक, अब भारत में बनेंगे

Follow Us On Social Media

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *