क्या आप जानते हैं: समुद्र के भीतर भारत से दोगुने बड़े क्षेत्र में फैले हैं जंगल

Ocean Forests Deep Beneath Water
Photo | Science Alert

Ocean Forests Deep Beneath Water : अमेज़ॅन रेन फॉरेस्ट से लेकर बोरियल वन तक, हम सभी दुनिया के सबसे बड़े जंगलों से परिचित हैं। लेकिन, क्या आपने समुद्र के भीतर किसी जंगल के बारे में सुना है? आपको बता दें कि पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया विश्वविद्यालय के साइंटिस्ट्स ने दुनिया में कई जगहों पर समुद्र के जंगल ढूंढे हैं और उनका नक्शा तैयार किया है। यदि इन सभी वनों का आकार जोड़ा जाए तो ये भारत के क्षेत्रफल का दोगुना हो जाएगा। 

महासागरीय वन क्या होते हैंॽ

दरअसल महासागरीय वनों को समुद्री वन कहते हैं। ये आमतौर पर समुद्री सिवार से बने होते हैं। यह एक प्रकार की काई है। अन्य पौधों की तरह, वे भी सूर्य की ऊर्जा और कार्बन डाइऑक्साइड की मदद से प्रकाश संश्लेषण (फोटोसिंथेसिस) की प्रक्रिया को पूरा करके जीवित रहते हैं।

समुद्री सिवार की सबसे बड़ी प्रजाति 10 मीटर या 32 फीट तक ऊंची हो सकती है। बड़े क्षेत्र में फैले ये पौधे पानी के बहाव के कारण गतिमान रहते हैं। जिस प्रकार भूमि के पौधे पृथ्वी के जीवों को भोजन और रहने का स्थान प्रदान करते हैं, उसी प्रकार समुद्री सिवार भी समुद्री जीवों को आश्रय देते हैं।

समुद्री काई की लंबी प्रजातियां, जैसे समुद्री बांस और घास में विभिन्न प्रकार की गैस से भरी संरचनाएं होती हैं जो पानी में ऑक्सीजन और कार्बन डाइऑक्साइड को संतुलित करती हैं। फोटोसिंथेसिस की प्रक्रिया में मजबूत बांस के तनों का उपयोग किया जाता है।

Ocean Forests Deep Beneath Water
Photo | science Alert

समुद्र के जंगल पृथ्वी की गर्मी को अवशोषित करते हैं

अब तक पृथ्वी पर उत्पादित 2,400 गीगाटन ग्रीनहाउस गैस हमारे महासागरों में जाती है। इसका मतलब है कि समुद्री वन बहुत मुश्किल में हैं। पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया, पूर्वी कनाडा और कैलिफोर्निया के कई समुद्री वन विलुप्त हो गए हैं। इससे समुद्री जीवों का आवास छिन गया है और कार्बन की मात्रा बढ़ने का खतरा भी बढ़ गया है।

इसके विपरीत जैसे-जैसे समुद्री बर्फ पिघल रही है और पानी का तापमान बढ़ रहा है, आर्कटिक महासागर के क्षेत्र में जंगल बढ़ने का डर है।

समुद्री वनों का क्षेत्रफल 60-72 लाख वर्ग किमी तक फैला

समुद्री सिवार को पृथ्वी पर सबसे तेजी से बढ़ने वाला पौधा माना जाता है। हालांकि, वैज्ञानिकों के लिए यह अनुमान लगाना अभी भी बहुत मुश्किल है कि यह जंगल के कितने क्षेत्र को कवर करता है। इसका कारण यह है कि जंगल का क्षेत्रफल जमीन पर सैटेलाइट के जरिए मापा जाता है, लेकिन यह तकनीक समुद्र के नीचे काम नहीं करती है।

इस शोध को पूरा करने के लिए शोधकर्ताओं ने समुद्री जंगलों, समुद्री काई आदि के आंकड़ों का विश्लेषण किया। कई देशों के स्थानीय आंकड़ों की जांच की। इससे पता चला कि महासागरीय वन 60 से 7.2 मिलियन वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र को कवर करते हैं, जो कि अमेज़ॅन के जंगलों से अधिक है। शोध में यह भी सामने आया कि ये जंगल काफी उपजाऊ हैं। वे चावल, गेहूं और मक्का की फसलों की तुलना में अधिक फलदायी हैं।

ये भी पढे़ं   

 इंडोनेशिया में चौंकाने वाला मामला: मछुआरे ने इंसान की तरह दिखने वाली शार्क मछली को पकड़ा

 NASA Moon Mission Artemis- I: नासा मून मिशन की आर्टेमिस-1 लॉन्च का दूसरा प्रयास भी विफल‚ 50 साल बाद चांद पर उतरने की पूरी तैयारी समझिए

Salman Rushdie Attacked: सैटेनिक वर्सेज के लेखक सलमान रुश्दी पर जानलेवा हमलाः जानें क्यों हमेशा विवादों में रहे

Ayman al Zawahiri Killed:  काबुल में  Ninja मिसाइलों ने उड़ाए 20 करोड़ इनामी जवाहिरी के परखच्‍चे

घर में नौकर के काम से मालकिन इतना इंप्रेस हुई कि इश्क हो गया और रचा ली शादीǃ  

जिगरी दोस्त और गूगल के को-फाउंडर Sergey Brin की वाइफ से इश्क कीमत यूं चुकाएंगे Elon Musk

 लंका बदहाल, नेता मालामाल: श्रीलंका के राष्ट्रपति आवास में मिले नोटों के बंडल, Video Viral- प्रदर्शनकारियों ने पूरे पैसे सेना को सौंपे

इंडिया-पाक की ये दो लेस्बियन लड़कियां बन रहीं औरों के लिए प्रेरणाः ऐसे की थी दोनों ने शादी, लवस्टोरी वायरल

डोनाल्ड ट्रंप की पहली पत्नी IvanaTrump की मौत:20 साल छोटे मॉडल से चौथी शादी की, हमेशा अपने बयानों से सुर्खियों में रहीं

युवती को बॉयफ्रेंड के सामने फार्ट रोकना पड़ा महंगा, जानिए क्यों होती हैं ये समस्या और क्या है सॉल्यूशन

 Baba Vanga Predictions :  कौन थी बाबा वेंगा जिनकी दो भविष्यवाणी 2022 में सत्य हो रही

Was This Article Helpful?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *