डेल्टा है या ओमीक्रॉन? इन लक्षणों से जानें दोनों वैरिएंट्स का अंतर, जरा सा भी लक्षण महसूस हो तो तुरंत करवाएं कोरोना टेस्ट

                        डेल्टा है या ओमीक्रॉन?  इन लक्षणों से जानें दोनों वैरिएंट्स का अंतर

ओमीक्रॉन की वजह से भारत में कोरोना वायरस की तीसरी लहर आ गई है। लगातार दो दिनों से देश में नए संक्रमितों की संख्या एक लाख के पार पहुंच रही है। ओमीक्रॉन पर अधिकांश रोगियों में संक्रमण के हल्के या कोई लक्षण नहीं होते हैं। फिर भी, विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने इसे ‘वैरिएंट ऑफ कंसर्न’ घोषित किया है। इससे पहले भारत में दूसरी लहर के लिए जिम्मेदार डेल्टा संस्करण को भी ‘वैरिएंट ऑफ कंसर्न’ घोषित किया गया था।

शारीरिक समस्याओं से बचने के लिए सतर्क रहने की जरूरत

विशेषज्ञ मानते हैं कि ओमीक्रॉन वेरिएंट डेल्टा से ज्यादा गंभीर नहीं है। फिर भी भविष्य में शारीरिक समस्याओं से बचने के लिए सतर्क रहने की जरूरत है। हालांकि दोनों प्रकारों के अधिकांश लक्षण फ्लू के समान हैं, लेकिन दोनों में कुछ विशेषताएं हैं जिन्हें उनके बीच अंतर किया जा सकता है।

जानिए वो सिम्टम्स जो डेल्टा और ओमीक्रॉन के बीच अंतर बताते हैं

  • जहां डेल्टा वैरिएंट के लक्षण शरीर में 10 दिनों तक देखे जा सकते हैं, वहीं ओमीक्रॉन के लक्षण आमतौर पर 4-5 दिनों के भीतर गायब हो जाते हैं।

  • डेल्टा के मरीजों को तेज बुखार की शिकायत होती है। ओमीक्रॉन के हल्के लक्षणों के कारण रोगियों में यह बुखार हल्का होता है।

  • डेल्टा वेरिएंट हमारे फेफड़ों को काफी नुकसान पहुंचाता है। इससे पूरे श्वसन तंत्र पर निगेटिव इम्पैक्ट पड़ता है। इंफेक्शन होने पर मरीज को सांस लेने में दिक्कत होती है। साथ ही शरीर में ऑक्सीजन की कमी भी हो जाती है। यदि आपको ओमीक्रॉन संक्रमण है तो ये समस्याएँ उत्पन्न नहीं होती हैं। यह हमारे फेफड़ों को न के बराबर नुकसान पहुंचाता है।

  • डेल्टा की वजह से दूसरी लहर के दौरान दुनियाभर में वैक्सीनेशन शुरू किया गया था। अधिकांश लोगों का टीकाकरण नहीं हुआ, जिससे डेल्टा की चपेट में आने से वे गंभीर रूप से बीमार हो गए। फिलहाल स्थिति अलग है। अधिकांश आबादी को टीका लगाया गया है और उनमें मजबूत प्रतिरक्षा है, फिर भी वे ओमीक्रॉन से संक्रमित हो रहे हैं।

  • डेल्टा वैरिएंट के प्रमुख लक्षणों में सूखी खांसी, तेज बुखार, सांस लेने में कठिनाई, स्वाद और गंध का अहसास न होना शामिल था। अब तक उपलब्ध आंकड़ों में सामने आया है कि, ओमीक्रॉन के शुरुआती लक्षणों में गले में खराश और खुजली, सिरदर्द, सर्दी, खांसी, त्वचा पर रैशेज, मांसपेशियों में दर्द और जी मिचलाना जैसे लक्षण शामिल हैं।
 Symptoms Show The Difference Between Omicron And Delta Variants | Difference Between Omicron And Delta Variants | corona third wave in India | how many waves of covid are expected in india | when third wave of corona will come | experts on third wave in india | covid cases in india today | covid vaccine | omicron India | omicron cases in India

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *