जलवायु परिवर्तन का कहर : 8 देशों में लगी भीषण आग, 113 करोड़ एकड़ जमीन तबाह

जलवायु परिवर्तन का कहर

दुनिया के आठ देश भीषण आग से जूझ रहे हैं। इनमें अमेरिका, रूस, तुर्की, ग्रीस, ब्राजील, इटली, स्पेन और जापान शामिल हैं। जून के अंतिम सप्ताह में शुरू हुई आग अब तक 113 मिलियन एकड़ को तबाह कर चुकी है। इससे अब तक 38 लोगों की मौत हो चुकी है। करीब एक हजार घर जल कर राख हो गए हैं, जबकि 1.10 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है।

इन देशों में 38 हजार दमकलकर्मी और करीब 650 हेलीकॉप्टर आग बुझाने में लगे हैं। वैज्ञानिकों का कहना है कि अमेरिका, रूस और ब्राजील में लगी आग जलवायु परिवर्तन का नतीजा है। जबकि ग्रीस और तुर्की में आग कैसे फैली इसकी जांच जारी है।

वहीं, इस आग ने रूस में सबसे ज्यादा 103 मिलियन एकड़ और अमेरिका में 6 लाख एकड़ को नष्ट कर दिया है। इसके अलावा, ग्रीस 40 वर्षों में अपनी सबसे भीषण आग का सामना कर रहा है। 81 जगहों पर आग लगी है. पारा 47 डिग्री सेल्सियस के ऊपर पहुंच गया है। तुर्की में 156 जगहों पर आग लग गई। यह गुरुवार को पावर प्लांट पहुंचा है।

रूस में 1.30 लाख साल की रिकॉर्ड गर्मी: शोध

अमेरिका के 13 राज्यों में 97 जगहों पर भीषण आग लग चुकी है। इसे बुझाने के लिए 25 हजार दमकलकर्मी और 450 हेलीकॉप्टर तैनात हैं। एक घंटे के हेलीकॉप्टर की कीमत 6 लाख रुपए आ रही है। साइबेरिया और याकुटिया में लगी आग से रूस 1.30 लाख साल की रिकॉर्ड गर्मी झेल रहा है। अगस्त में यहां का औसत तापमान 12 डिग्री है, जो 47 डिग्री तक पहुंच गया है।

    113 Million Acres Of Land Destroyed | Massive Fire In 8 Countries

Was This Article Helpful?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *