Agneepath Scheme: IAF ने जारी किया भर्ती का ब्योरा, अग्निवीरों को साल में 30 छुट्टियां मिलेगी, ये होगा वेतन, पढ़िए योजना से जुड़े आपके सभी सवालों के जवाब

Agneepath Scheme: IAF ने जारी किया भर्ती का ब्योरा
IAF ने जारी किया अग्निपथ योजना में भर्ती का विवरण। (तस्वीर: Twitter/@IAF_MCC)

 Agneepath Scheme:  सरकार की ओर से सेना की तीनों कमानों में युवाओं की अल्पकालीन भर्ती के लिए लाई गई अग्निपथ योजना का कई राज्यों में युवाओं के बड़े तबके में विरोध हो रहा है। कई जगह तो युवाओं को गुमराह तक किया जा रहा है।

इस बीच भारतीय वायुसेना (IAF) ने रविवार को योजना में भर्ती का पूरा ब्योरा जारी किया है।

इसमें योजना के माध्यम से सेना में शामिल होने वाले ‘अग्निवीरों’ के लिए जरूरी योग्यता, वेतन और इंसेटिव्स, सालाना छुट्टी, ट्रेनिंग सहित अन्य जरूरी जानकारियां दी गई हैं।

The Indian Air Force releases details on ‘Agnipath’ recruitment scheme

1/2 pic.twitter.com/YKFtJZ2OzP

— ANI (@ANI) June 19, 2022

‘Agnipath’ recruitment scheme details released by Indian Air Force

2/2 pic.twitter.com/8bIXlTp7sJ

— ANI (@ANI) June 19, 2022

क्या है अग्निपथ स्कीम?

  • अग्निपथ स्कीम तीनों सेनाओं, थल सेना, वायुसेना और नौसेना, के लिए एक अखिल भारतीय योग्यता-आधारित नई भर्ती प्रक्रिया है।
  • इस योजना के तहत भर्ती होने वाले युवाओं को ‘अग्निवीर’ कहा पुकारा जाएगा। उन्हें चार साल के लिए सेना में सेवा का मौका मिलेगा।
  • इसके बाद योग्यता, इच्छा और मेडिकल फिटनेस के आधार पर 25 प्रतिशत अग्निवीरों को सेवा में  आगे भी जारी रखा जाएगा।
  • इस योजना के खिलाफ देशभर में युवा विरोध कर रहे हैं और इसे वापस लेने की मांग कर रहे हैं।

स्कीम के तहत भर्ती कब से शुरू होगी?

  • IAF की ओर से ट्वीट किए गए ब्योरे में बताया गया है कि हमारी ओर से योजना के तहत भर्ती प्रक्रिया 24 जून से शुरू की जाएगी। इसमें पहले साल 17.5 से 23 साल तक के भारतीय युवा आवेदन कर पाएंगे। फिर अगले साल से उम्र सीमा 17.5 से 21 साल की रहेगी।
  • हालांकि, पीछले दो सालों से रुकी भर्ती की वजह से पहले साल के लिए उम्र की अधिकतम सीमा 23 साल रहेगी।
  • आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को मेडिकल टेस्ट देना होगा। इसके बाद शारीरिक दक्षता परीक्षा सहित अन्य प्रक्रियाएं पूरी की जाएगी।

IAF में कैसी होगी अग्निवीरों की ट्रेनिंग?

  • IAF के मुताबिक, चयनित अग्निवीरों को कमान की जरूरत के अनुसार छह महीने से अधिकतम 10 महीने तक की ट्रेनिंग दी जाएगी। 
  • हालांकि, असाधारण मामलों को छोड़कर अग्निवीरों को अपनी इच्छा से सेवा छोड़ने की इजाजत नहीं दी जाएगी। उन्हें वायुसेना की वर्दी के साथ एक विशेष प्रतीक चिन्ह भी प्रदान किया जाएगा।
  • अग्निवीरों के सलेक्शन के बाद IAF की जरूरत के हिसाब से कहीं भी ड्यूटी पर तैनात किया जा सकेगा।

अग्निवीरों को क्या-क्या फैसिलिटी मिलेंगी?

  • अग्निवीरों को सैलेरी के साथ कठिनाई और वर्दी भत्ते के साथ कैंटीन और मेडिकल फैसिलिटी भी मिलेगी। ये सभी सुविधाएं एक आम सैनिक की तरह ही होंगी। अग्निवीरों को ड्यूटी के लिए यात्रा भत्ता भी मिलेगा।
  • इसके अलावा उन्हें हर साल 30 सवैतिनिक अवकाश (पेड लीव) और चिकित्सक की सलाह पर मेडीकल छुट्टी भी मिलेगी। 
  • इसी तरह सभी अग्निवीरों को कुल 48 लाख रुपये का इंश्योरेंस कवर मिलेगा। 

  • अग्निवीर सम्मान और पुरस्कार के भी हकदार होंगे 
  • IAF में सलेक्ट हुए सभी अग्निवीर कमान के सभी सम्मान और पुरस्कारों के हकदार होंगे। इसके अलावा उनका केंद्रीकृत हाई क्वालिटी वाला ऑनलाइन डाटाबेस भी तैयार किया जाएगा। इसमें उनकी ओर से हासिल कौशलों को दर्ज कर वैल्यूएशन किया जाएगा।

ये भी पढ़ें –  Agnipath Army Bharti: इंडियन आर्मी का नोटिफिकेशन जारी, जुलाई से शुरू होगा पंजियन, देखिए A  to Z डिटेल

IAF में अग्निवीरों का वेतनमान क्या होगा?

  • स्कीम के तहत अग्निवीरों को पहले साल 30,000 रुपये, दूसरे साल में 33,000 रुपये, तीसरे साल में 36,500 रुपये और चौथे साल में 40,000 रुपये महीना वेतन दिया जाएगा। 
  • इसमें से 70 प्रतिशत राशि सीधे उनके खाते में डिपोजिट होगी और 30 प्रतिशत सेवा निधि कोष में जमा होगी। इतनी ही राशि केंद्र सरकार की ओर से इस कोष में जमा की जाएगी।
  • इससे चार साल बाद अग्निवीरों को एकमुश्त 11.71 लाख रुपये का सेवा निधि पैकेज मिल पाएगा।

सेवा के दौरान शहीद या दिव्यांग होने पर क्या स्थिति रहेगी?

  • सभी अग्निवीरों का 48 लाख रुपए का नॉन-प्रीमियम इंश्‍योरेंस कवर मिलेगा। ऐसे में ड्यूटी के दौरान शहीद होने पर उन्हें बीमा राशि के साथ 44 लाख रुपये की अतिरिक्‍त अनुग्रह राशि दी जाएगी। 
  • इसके अलावा, परिवार को सेवा निधि सहित बची हुई नौकरी का वेतन दिया जाएगा।
  • वहीं 100 प्रतिशत दिव्यांग होने पर 44 लाख, 75 प्रतिशत पर 25 लाख और 50 प्रतिशत दिव्यांग होने पर 15 लाख रुपए मिलेंगे। 
Agnipath Scheme Protest Update | Agneepath scheme | Agneepath scheme analysis | Agnipath Recruitment Scheme | Armed Forces | Agnipath Protest | protest against Agnipath Scheme | 

Was This Article Helpful?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *