वडनगर में आज भी होते हैं नरेंद्र मोदी और अब्बास की दोस्ती के चर्चे‚ PM ने किया था ब्लॉग में जिक्र

PM Narendra Modi

18 जून शनिवार को पीएम मोदी (PM Narendra Modi and Abbas Friendship) की मां हीराबेन के 100 वें जन्मदिन पर गुजरात में थे। इस दौरान मां से मिलने के बाद उन्होंने एक ब्लॉग लिखा जिसमें उन्होंने अपने घर में रहे एक मित्र अब्बास भाई के बारे में बताया था। ऐसे में सभी के मन में यह  प्रश्न है कि आखिर ये अब्बास कौन हैं? वहीं पीएम नरेंद्र मोदी के दोस्त अब्बास की फोटो भी सामने आई है। इसे स्वयं पीएम के भाई ने इस तस्वीर को शेयर की है।

दरअसल, पीएम मोदी के भाई सोमा मोदी ने बताया है कि अब्बास फिलहाल ऑस्ट्रेलिया में रहे रहे हैं। सोमा मोदी कहते हैं, अब्बास भाई के पिता और हमारे पिता दामोदार दास के अच्छे दोस्त थे। जब अब्बास भाई के पिता का अचानक स्वर्गवास हो गया था। इसके बाद उनके पिता दामोदारदास मोदी अब्बास को अपने साथ घर ले आए थे और उनकी पढ़ाई पूरी कराई। 

पीएम के पिता ने  अब्बास की पढ़ाई में की थी मदद

पीएम मोदी के भाई सोमा मोदी ने बताया है कि अब्बास ने खूब मेहनत कर अपनी पढ़ाई  की जिसके बाद उनकी सरकारी नौकरी लग गई थी और पिछले साल ही वो सरकारी नौकरी से सेवानिवृत्त हुए हैं और फिलहाल ऑस्ट्रेलिया में हैं। उन्होंने बताया कि अब्बास उनके ही साथ रहते थे और उनके लिए हीरा बा ही खाना बनाती थीं। सोमा मोदी ने बताया कि संघर्षों के उस जीवन में भी सभी एक साथ मिलजुल कर रहते थे। 

modi friend abbas home
यह तस्वीर अब्बास के कासीम्पा गांव में बने घर की। फोटोः सोशल मीडिया।

पीएम ने किया था जिक्र

पीएम मोदी ने अपने ब्लॉग में अब्बास का जिक्र करते हुए कहा था कि ‘मां हमेशा दूसरों को खुश देखकर खुश रहती हैं। घर में जगह भले कम हो लेकिन उनका दिल बड़ा था। इसके उदाहरण के तौर पर पीएम ने बताया कि हमारे घर से थोड़ी दूर पर एक गांव था, जहां मेरे पिताजी के बहुत करीबी मुस्लिम दोस्त रहा करते थे। उनका बेटा था अब्बास जो कि हमारे ही साथ रहने लगे थे।

पीएम मोदी ने बताया था कि उनके पिता के दोस्त की असमयिक मृत्यु के चलते अब्बास को पिताजी घर ले आए थे और अब्बास को बिल्कुल घर के सदस्य की तरह ही रखा गया था। 

अब्बास ने खुद किया था इस बात का खुलासा

अब्बास और पीएम मोदी वडनगर के जिस बीएन हाई स्कूल में पढ़े, उस स्कूल के ट्रस्टी कमलेश त्रिवेदी के अनुसार नरेंद्र  मोदी और अब्बास के रिश्ते से सभी स्थानीय लोग परिचित हैं। उन्होने बताया की कई दफा अब्बास और वो स्कूलों के कार्यक्रम में एक साथ मौजूद रहे। उस दौरान खुद अब्बास ने साथी बच्चों के बीच इस बात का खुलासा किया था कि यदि मोदी के पिता नहीं होते तो वह पढ़ नहीं पाते।

ये भी पढ़ें- PM मोदी ने 100वें जन्मदिन पर मां के पैर धो आखों से लगाया जल, लिया आशीर्वाद, भाई समान अब्बास के बारे में खुलकर बोले

गांव के लोगों ने बताई नरेंद्र और अब्बास के पिता की दोस्ती की कहानी

कैसीम्पा गांव में अब्बास के मामा के बेटे गुलाम हैदर (Gula Haider) और गांव के ग्राम पंचायत सदस्य हैदर भाई गुलाम हैदर ने बताया की इसमें कोई शक नहीं की अब्बास के पिता और नरेंद्र मोदी के पिता आपस में अच्छे  दोस्त थे। दोनों लोगों की वडनगर में अगल-बगल  दुकाने थी। अब्बास के पिता चाय  बनाया करते थे तो वहीं नरेंद्र  मोदी के पिता भजिया बेचते थे।  उसी दौरान अचानक अब्बास के पिता का इंतकाल हो गया। 

नरेंद्र मोदी और अब्बास दोनों एक ही स्कूल बीएन हाई स्कूल में पढ़ा करते थे। कैसीम्पा से वडनगर पढ़ाई  करने जाना अब्बास के लिए थोड़ा मुश्किल था। इसलिए दामोदर  काका (मोदी के पिता) ने अब्बास को अपने घर  रख कर पढ़ाया। नरेंद्र मोदी की मां हीराबा अब्बास को अपने बच्चों की तरह ही रखती थीं।

PM Narendra Modi and Abbas Friendship | Modi and Abbas Friendship | PM Modi Childhood Friend Abbas | Childhood Friend | 

ये भी पढ़ें – Tokyo Olympics के बीच Mossad के बदले की खूंखार कहानी: 49 साल बाद म्यूनिख ओलिंपिक चर्चा में! ब्लैक सेप्टेंबर गिरोह और इससे जुड़े लोगों को इजराइल की खुफिया ऐजेंसी ने 20 साल में ऐसे चुन-चुन कर मारा  

Was This Article Helpful?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *