PM की सिक्योरिटी चूक कोन्सपिरेसी थी:Video Viral‚ जाम लगाने वालों ने ही माना ‘हमें पहले से पता था रूट, भीड़ तो बुूलाई गई थी,’ पुलिस भी प्रदर्शनकारियों के साथ चाय पीती रही

PM की सिक्योरिटी चूक कोन्सपिरेसी थी

पीएम नरेंद्र मोदी के फिरोजपुर पहुंचने का रूट लीक करने की पुष्टि हो गई है। सामने आया है कि प्रदर्शनकारियों को पहले से ही पीएम की रूट की जानकारी थी। यानी पीएम का रूट लीक किया गया। प्रदर्शकारियों ने माना कि उन्होंने लाउडस्पीकर से अनाउंसमेंट कर पास के गांव प्यारेआणा से भीड़ जमा कर पूरी सड़क जाम कर दी। तब तक कई किसान संगठन भी वहां आ चुके थे। 

बताया जा रहा है कि इससे पहले वह रैली में जाने वाले भाजपा कार्यकर्ताओं की बसों को रोक रहे थे। इससे ये भी साबित हो गया है कि पीएम के कार्यक्रम में जो सोशल मीडिया पर कुर्सियां खाली होने के वीडियो चलाए जा रहे थे, उसका भी यही कारण था कि लोगों को कार्यक्रम में शामिल होने से भी रोका गया। वहीं पंजाब सरकार और प्रशासन मूकदर्शक बन सभी देखती रही। 

 बता दें कि रूट की पहले से जानकारी और भाजपा कार्यकर्ताओं की बसो को रोकने की बात को खुद प्रदर्शनकारियों ने कैमरे के सामने स्वीकार किया है, जिसके वीडियो मीडिया में अब वायरल हो रहे हैं।

इतना ही नहीं अब एक और वीडियो भी सामने आया है, जिसमें पीएम के रूट पर तैनात पुलिसकर्मी भी भीड़ को हटाने के बजाय प्रदर्शनकारियों के साथ चाय का लुत्फ लेती नजर आ रही है। इससे पंजाब सरकार और पंजाब पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़े हो गए हैं। वहीं इस पूरे मामले को कहीं न कहीं पंजाब सरकार की बैकडोर प्लानिंग होना बताया जा रहा है।

पीएम के आने का पता लगते ही हमने पुल जाम कर दिया, प्रदर्शनकारी

पीएम मोदी के रूट पर प्रदर्शन करने वाले ने कहा कि हमने पुल को जाम कर दिया था। हमने भाजपा कार्यकर्ताओं के काफिले को रोका। इसके बाद जैसे ही हमें पता चला कि प्रधानमंत्री इस रास्ते से बठिंडा रोड से मोगा हाईवे आ रहे हैं तो हमने तुरंत पास के गांव प्यारेआणा के लोगों को आवाज दी कि पीएम यहां आ रहे हैं। इसके अलावा सभी को मेसेज भेजकर बुलाया गया। जिसके बाद हमने ट्रॉली लगाकर फ्लाईओवर को पूरी तरह जाम कर दिया। इसके बाद पीएम मोदी को वहां से लौटना पड़ा।

Mask Out !!!

State Police themselves enjoying tea with Protesters whose sole & sole intent was to harm PM @narendramodi ji. pic.twitter.com/fx2N9fJ0Ap

— Sameet Thakkar (@thakkar_sameet) January 5, 2022

पुलिस जाम खोलने की बजाय प्रदर्शनकारियों के साथ ही टाइम पास करती दिखी

प्रधानमंत्री का रूट पूरी तरह से सैनेटाइज यानि ​बिना किसी बाधा के होता है। इसकी पूरी जिम्मेदारी राज्य सरकारों की होती है कि वो अपने पीएम के काफिले को साफ रास्ता उपलब्ध करवाए।  लेकिन पंजाब पुलिस को यह सुनिश्चित करने में कोई दिलचस्पी नहीं थी। ऐसा ही एक वीडियो सामने आया है। जिसमें साफ नजर आ रहा है कि पीएम का रास्ता साफ होने के बजाय पंजाब पुलिस के अफसर और जवान प्रदर्शनकारियों के साथ ही मशगूल दिखे। इसमें देखा जा सकता है कि पुलिसकर्मी जाम खोलने में दिलचस्पी नहीं ले रहे थे और नाम मात्र की ड्यूटी का दिखावा कर रहे थे।

प्रदर्शनकारी पीएम मोदी की गाड़ी के पास पहुंच गए

फिरोजपुर के रास्ते में प्रदर्शनकारी पीएम के काफिले से  8-10 किमी आगे बैठे थे। प्रदर्शनकारियों को जैसे ही पीएम के रास्ते में रुकने की सूचना मिली उनमें से कुछ वहां से काफिले की ओर चल पड़े। इनमें से कुछ लोग काफिले के पास भी पहुंच गए। उसके बाद, स्थिति को भांपते हुए, पीएम के सुरक्षा अधिकारियों ने लौटने का फैसला किया क्योंकि यदि पीएम प्रदर्शनकारियों में फंस जाते तो स्थिति और खराब हो सकती थी।

भाजपा का आरोप, पंजाब पुलिस ने खुद प्रदर्शनकारी जमा किए

भाजपा नेताओं ने यह भी आरोप लगाया कि 10 मिनट पहले तक जाम नहीं लगा था। पीएम मोदी के सड़क मार्ग से आने की जानकारी मिलते ही यह जानकारी लीक हो गई। जिसके बाद सड़क पर जाम लग गया। सरकार के इशारे पर जानबूझकर पीएम के रास्ते को जाम किया गया।

सुनील जाखड़ ने पंजाब कांग्रेस पर उठाए सुवाल,बोले- आज जो हुआ, वह स्वीकार्य नहीं
कांग्रेस की कैंपेन कमेटी के चेयरमैन सुनील जाखड़ ने PM की सुरक्षा के मुद्दे पर अपनी ही सरकार पर सवाल उठा दिए।

सुनील जाखड़ ने पंजाब कांग्रेस पर उठाए सुवाल,बोले- आज जो हुआ, वह स्वीकार्य नहीं

पंजाब प्रदेश कांग्रेस के पूर्व प्रधान और पंजाब विधानसभा चुनाव को लेकर गठित हुई कांग्रेस की कैंपेन कमेटी के चेयरमैन सुनील जाखड़ ने PM की सुरक्षा के मुद्दे पर अपनी ही सरकार पर सवाल उठा दिए। जाखड़ ने कहा है कि फिरोजपुर में आज जो हुआ, वह स्वीकार करने योग्य नहीं है। यह पूरी तरह से पंजाबियत के खिलाफ है।

सुनील जाखड़ ने पंजाब कांग्रेस पर उठाए सुवाल,बोले- आज जो हुआ, वह स्वीकार्य नहीं

उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री के लिए फिरोजपुर में भाजपा की राजनीतिक रैली तक पहुंचने का सुरक्षित रास्ता सुनिश्चित किया जाना चाहिए था। लोकतंत्र इस तरह काम नहीं करता।

जेपी बोले- पंजाब मुख्यमंत्री चन्नी ने फोन पर बात करने से ही मना कर दिया

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा ने कह कि ,पीएम का काफिला जब नेशनल हाईवे पर फंस गया तो पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने फोन ही नहीं उठाया। वहीं इस समस्या का समाधान करने से ही इनकार कर दिया।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने आरोप लगाया कि पंजाब की कांग्रेस सरकार ने पीएम की रैली रद्द करने के लिए ओच्छी मानसिकता और कार्रवाई को अपनाया। कांग्रेस को यह भी याद नहीं रहा कि रैली से पहले पीएम को शहीद भगत सिंह, राजगुरु व सुखदेव को श्रद्धांजलि देने के अलावा कई विकास प्रोजेक्ट्स का उद्घाटन और नींव पत्थर भी रखना था।

Narendra Modi Punjab Visit Update | PM Narendra Modi’s Ferozepur Lucknow Rally Cancelled

 | Narendra Modi Security Leak (Punjab) | Protesters On PM Modi Ferozepur Route Details | 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *