Tajinder Bagga का विवादों से पुराना नाता:प्रशांत भूषण को थप्पड़ मारा तो कभी राजीव गांधी को ‘फादर ऑफ मॉब लिंचिंग’ बताकर रहे सुर्खियों में

Tajinder Bagga-kejariwal

पंजाब पुलिस (Punjab Police) ने शुक्रवार को भाजपा नेता तजिंदर पाल सिंह (Tajinder Bagga) बग्गा को उनके दिल्ली स्थित निवास से गिरफ्तार कर लिया। बग्गा को आनन फानन में अरेस्ट करते ही पंजाब, हरियाणा और दिल्ली में सियासत चरम पर है। 

दरअसल पंजाब पुलिस की ओर से 1 अप्रैल 2022 को बग्‍गा (BJP Spokesperson) के खिलाफ सोशल मीडिया पर झूठी सांप्रदायिक बयानबाजी करने, लोगों को भड़काने, नफरत फैलाने की शिकायत पर केस दर्ज किया गया था। बता दें कि ये पहली बार नहीं है, जब बग्गा इस तरह के विवादों में घिरे हैं। इससे पहले भी उनका नाम कई विवादों से जुड़ चुका है। ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि तजिंदर पाल सिंह बग्गा आखिर कौन हैं? और किन विवादों से सुर्खियों में रहे। 

कौन हैं तजिंदर पाल सिंह बग्गा? (who is tajinder bagga?)

दिल्ली की राजनीतिक विवादों की दुनिया में बीते 11 साल में तजिंदर बग्गा का नाम हमेंशा सुर्खियों में बना रहा। 16 की उम्र मे​ सियासत में कदम रखने वाले बग्गा साल 2011 में अन्ना आंदोलन के समय केजरीवाल टीम का हिस्सा थे। इस दौरान विचार नहीं मिले तो केजरीवाल से अलग होकर भाजपा जॉइन कर ली। फिर 23 साल की उम्र में भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ता बन गए। बग्गा ने भगत सिंह क्रांति सेना के नाम से संगठन भी बना रखा है। इसके बाद उनका दिल्ली में राजनीति स्तर पर कई तरह के विवादों में नाम आता रहा। 

LEFTISTS MURDERED MILLIONS
LEFTISTS MURDERED MILLIONS
LEFTISTS MURDERED MILLIONS
LEFTISTS MURDERED MILLIONS
LEFTISTS MURDERED MILLIONS
LEFTISTS MURDERED MILLIONS
LEFTISTS MURDERED MILLIONS
LEFTISTS MURDERED MILLIONS
LEFTISTS MURDERED MILLIONS pic.twitter.com/TYOShQauGr

— Tajinder Pal Singh Bagga (@TajinderBagga) January 14, 2020

वे सोश्यल मीडिया इन्फ्लूएंसर और आर्ट ऑफ लिविंग के अनुयायी भी हैं। बग्गा के ट्विटर पर 9 लाख से ज्यादा फॉलोअर हैं। लेकिन लोग बग्गा को जमकर ट्रोल करते हैं और वो भी विरोधियों को जमकर ट्रोल करते हैं। 

2015 में पीएम मोदी ने 150 सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर के साथ चर्चा की थी। इन लोगों में तेजिंदरपाल बग्गा भी थे। 2017 में बग्गा को दिल्ली में भाजपा का स्पोक्सपर्सन बनाया था। 

 कश्मीर फाइल्स फिल्म पर केजरीवाल के बायान का उनके घर के बाहर प्रदर्शन

दिल्ली CM अरविंद केजरीवाल (CM Arvind kejriwal) और भाजपा के नेता तजिंदर पाल सिंह बग्गा के बीच पिछले एक माह से लगातार लड़ाई चल रही है।  विवेक अग्निहोत्री की फिल्म द कश्मीर फाइल्स के रिलीज होने के बाद केजरीवाल ने बयान दिया था कि यदि भाजपा विधायक इस फिल्म को टैक्स फ्री देखना चाहें तो इसे यूट्यूब पर अपलोड कर दो। 

इससे आम जनता को भी फायदा होगा और ये सबके लिए फ्री हो जाएगी। केजरीवाल ने PM नरेंद्र मोदी पर राजनीतिक फायदा उठाने के लिए फिल्म का इस्तेमाल करने का आरोप भी लगाया। उन्होंने फिल्म को भाजपा समर्थित और झूठी फिल्म बताया था।

इसके बाद CM केजरीवाल के खिलाफ तजिंदर बग्गा फ्रंट फुट पर आ गए। बग्गा की अगुआई में प्रदर्शन कर रहे कार्यकर्ताओं ने केजरीवाल के आवास के बाहर हंगामा कर तोड़फोड़ की। उनके निवास के मेन गेट और दीवारों को केसरिया यानि भगवा रंग से पौत दिया था। 

बग्गा ने केजरीवाल को सोशल मीडिया पर कई धमकियां भी दीं। जिसके बाद बग्गा पर एक अप्रैल को FIR दर्ज की गई। पंजाब पुलिस बग्गा को लगातार पकड़ने की कोशिशों में जुटी थी। 

 राजीव गांधी को ‘फादर ऑफ मॉब लिंचिंग’ बता पोस्टर लगवाया


साल 2018 में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने 84 के सिख दंगों में कांग्रेस की संलिप्तता से साफ इनकार किया था। इसके बाद तजिंदर बग्गा ने दिल्ली में एक पोस्टर लगवाया था, इसमें उन्होंने राजीव गांधी को फादर ऑफ मॉब लिंचिंग यानि भीड़ हिंसा का जनक बता दिया था।

तजिंदर बग्गा ने इस दौरान बयान जारी कर कहा था कि पूरा भारत जानता है कि राजीव गांधी 84 के दंगों के मास्टरमाइंड थे…। उन्होंने दंगों में अपनी भूमिका बताते हुए… स्वीकारा था कि जब बड़ा पेड़ गिरता है… तो धरती हिलती ही है…। बग्गा ने कहा था कि यदि दंगों में कांग्रेस की भूमिका नहीं थी तो पार्टी को ये भी क्लियर कर देना चाहिए कि पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने माफी किस बात की मांगी थी।

इस बीच तजिंदर पाल सिंह ने कांग्रेस नेता कमलनाथ पर भी हमले में संलिप्त होने का आरोप लगाया था। इसके बाद तजिंदर के पोस्टर और बयानों को कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने देश और प्रधानमंत्री की कुर्सी का अपमान बता दिया था।

 कांग्रेस की मीटिंग के दौरान बाहर बेची चाय


साल 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने PM मोदी को लेकर एक  विवादित बयान दे डाला था… अय्यर ने कहा था… कि मोदी कभी देश के प्रधानमंत्री नहीं बन सकते…। वे चाय बेचते थे और फिर से चाय ही बेचेंगे… उनक चाय बेचने के लिए हम कोई जगह ढूंढ कर दे देंगे…।  

अय्यर के मोदी पर इस तंज पर तजिंदर बग्गा ने उन्हें आड़े हाथों लिया। ​तजिंदर ने अय्यर के खिलाफ विरोध दर्ज करने स्वरूप चुनाव से जुड़ी एक कांग्रेस मीटिंग के दौरान उनके कार्यालय के बाहर खड़े होकर चाय सेल की थी।

 कश्मीर पर जनमत संग्रह के प्रशांत भूषण के बयान पर उन्हें थप्पड़ मारा 

सीनियर एडवोकेट और टीम अन्ना के सदस्य रहे प्रशांत भूषण को 2011 में भगत सिंह क्रांति सेना के अध्यक्ष तजिंदर सिंह बग्गा के संगठन कार्यकर्ता ने सुप्रीम कोर्ट में थप्पड़ मार दिया था। दरअसल भूषण सुप्रीम कोर्ट कैंपस के सामने अपने कार्यालय में बैठे थे। तभी भगत सिंह क्रांति सेना के कार्यकर्ता ने भूषण को थप्पड़ मारे थे।

 

 

मीडिया रिपोर्ट्स में उस दौरान सामने आया था कि भूषण ने जम्मू-कश्मीर से सुरक्षा बलों की वापसी की मांग करते हुए वहां जनमत के आकलन के लिए जनमत संग्रह कराने की भी बात कही थी। इसी बयान के बाद भूषण पर हमला हुआ था।

Tajinder Bagga

इस हमले के बाद तजिंदर बग्गा और उनके साथियों ने कई पर्चे भी फेंके थे, इनमें भूषण पर मानवाधिकार के नाम पर देश की एकता पर हमला करने का आरोप लगाया गया था। वहीं भूषण पर संसद हमले के दोषी अफजल गुरु और मुंबई आतंकी हमले के दोषी अजमल कसाब को मौत की सजा का विरोध करने का भी आरोप लगाया था।

 लेखिका अरुंधति रॉय की बुक लॉन्च में हंगामा, रॉय को कश्मीरियों का दुश्मन बताया था

तजिंदर बग्गा ने अंग्रेजी लेखिका और सोश्यमल ए​क्टिविस्ट अरुंधति रॉय की बुक लॉन्चिंग में हंगामा भी किया था। 2011 में अरुंधति रॉय दिल्ली के इंडिया हैबिटेट सेंटर में अपनी एक किताब ” द ब्रोकन रिपब्लिक” की लॉन्चिंग को लेकर पहुंची थीं।

Tajinder Bagga

कार्यक्रम के दौरान वहां पहुंचे तजिंदर बग्गा ने रॉय की बुक को लेकर जमकर हंगामा किया था।  उन्होंने अरुंधती को कश्मीरियों का दुश्मन बताकर शो को बीच में रुकवाया था। इसके बाद दिल्ली पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया था। इस घटना के बाद बग्गा के घर की तलाशी भी ली गई थी।

तेजिंदर बग्गा NaMo पत्रिका के एडिटर भी हैं। ये एक ऑनलाइन पोर्टल है। फिलहा ये पोर्टल चल रहा है या नहीं  पता नहीं। इसे भगत सिंह क्रांति सेना चलाती है। इस पोर्टल पर पीएम मोदी द्वारा चलाई गईं योजनाओं और नई पहलों का प्रोमोशन किया जाता है। बग्गा के कई दिग्गज आरएसएस नेताओं और बीजेपी नेताओं से भी बेहतर संबंध हैं। बीजेपी ने बग्गा के जरिए युवाओं को आकर्षित किया है। 

Tajinder Bagga | BJP Spokesperson Tajinder Bagga | Who Is Tajinder Bagga | BJP Leader Tajinder Bagga

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *