तेंदुलकर को लेकर अख्तर का कन्फेशन : कहा-2006 के कराची टेस्ट में हर कीमत पर सचिन को चोटिल करना चाहता था..

Shoaib Akhtar made a shocking revelation
image | twitter

 गॉड ऑफ क्रिकेट कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) और शोएब अख्तर (Shoaib Akhtar) के बीच विरोध हमेशा से  रोमांच का विषय रहा है। (Shoaib Akhtar made a shocking revelation) समय-समय पर दोनों के टकराव के किस्से भी सामने आते रहे हैं। एक दुनिया का सबसे तेज गेंदबाज था तो दूसरा सबसे बेहतरीन बल्लेबाज। रविवार को ऐसा ही एक किस्सा शोएब अख्तर ने बताया।

मैं चोटिल ​नहीं कराया लेकिन इसका फायदा मोहम्मद आसिफ को मिला

46 साल के इस पूर्व तेज गेंदबाज ने बताया कि वे एक बार सचिन को जानबूझकर चोटिल करना चाहते थे और उन्हें बैक टू बैक बाउंसर मार रहे थे। हालांकि, वे सचिन को चोटिल नहीं कर पाए। लेकिन, इसका फायदा मोहम्मद आसिफ को मिला था।

जब आउट नहीं कर पाए शोएब तो चोटिल करने के लिए पीछे पड़े

सचिन जब तक खेले विरोधी गेंदबाजों पर हावी ही रहे। हर गेंदबाज उनका विकेट लेना चाहता था। सचिन को आउट करना इतना आसान भी नहीं था। ऐसे में 2006 के टेस्ट में शोएब जब सचिन को आउट नहीं कर पा रहे थे तो सचिन को चोटिल करने के पीछे पड़ गए। उन्होंने सचिन के हेलमेट में बॉल भी मारी। लेकिन, सचिन ने अपने सिर को बचा लिया।

उस दिन मेरे सिर पर खून सवार था

एक वेबसाइट को दिए एक खास इंटरव्यू में शोएब अख्तर ने 16 साल पुराना ये हकीकत का किस्सा सुनाया। शोएब ने कहा- ‘उस दिन मेरे सिर पर खून सवार था। बात 2006 में टीम इंडिया के पाक दौरे की है। दोनों टीमों के बीच कराची में तीसरा टेस्ट मुकाबला खेल रही थीं। मैं सचिन को मारने के मकसद से बॉलिंग कर रहा था।’

मैंने हेलमेट पर बॉल मारी और उसने अपना सिर बचा लिया

ऑलटाइम फास्टेस्ट बॉलर शोएब ने कहा- ‘आज से पहले यह बात मैंने कहीं नहीं कही थी। मैं हर हाल में उन्हें जख्मी करना चाहता था। मेरा मकसद सिर्फ उन्हें घायल करना ही था। तब मेरे दिमाग में उनका विकेट नहीं, बल्कि इंजरी चल रही थी। जबकि इंजमाम लगातार मुझे विकेट के सामने बॉल फेंकने को कह रहे थे। मैंने सचिन हेलमेट पर बॉल मारी। मुझे लगा कि काम हो गया, लेकिन सचिन ने जैसे-तैसे अपना सिर बचा लिया।’

इरफान पठान ने दिया था शोएब का जवाब

शोएब की इस आक्रामक गेंदबाजी का फायदा मोहम्मद आसिफ को मिला था। शोएब की गेंदबाजी से भारतीय बैट्समैन बैकफुट पर थे। इसका जवाब इरफान पठान ने अपनी गेंदबाजी से दिया था। उसी टेस्ट में इरफान ने शुरुआती तीन बॉल पर लगातार तीन विकेट चटकाते हुए हैट्रिक ली थी। उन्हें ओपनर सलमान बट्ट और अपनी तकनीक के लिए मशहूर यूनिस खान, मोहम्मद यूसुफ का विकेट मिला था।

रज्जाक-आसिफ को मिले थे मास्टर ब्लास्टर के विकेट

इस मैच में सचिन का विकेट अब्दुल रज्जाक को मिला था। इसमें भारत ने 321 रन के विशाल अंतर से यह मैच गंवाया था। पहली पारी में सचिन तेंडुलकर 28 गेंद में 23 रन ही बना पाए थे, तब अब्दुल रज्जाक ने उन्हें आउट किया था। दूसरी पारी में भी उनका बल्ला खामोश ही रहा था। तब वह आसिफ का शिकार हुए थे। याद दिला दें कि आसिफ ने एक इंटरव्यू में खुलासा किया था कि शोएब अख्तर के बाउंसर्स का सामना करते हुए तेंदुलकर की आंखें बंद हो जाती थीं।

Shoaib Akhtar made a shocking revelation | Sachin Tendulkar | India vs Pakistan Test Series back in 2006

Was This Article Helpful?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *