Tomato Flu से सावधान: केंद्र ने गाइडलाइन जारी कर बचाव‚ इलाज और लक्षण सबकुछ बताया

Tomato Fever Guideline
Representative Image | Getty Images

Tomato Fever Guideline: देश में इस वक्त Tomato Flu के केस तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। खासकर बच्चों में इस डिजीज के ज्यादा मामले देखने में आ रहे हैं।  ऐसे में स्वास्थ्य संबंधि गंभीरता को देखते हुए केंद्र सरकार ने इसे लेकर एक एडवाइजरी जारी कर दी है। इस एडवाइजरी में वो सभी गाइडलाइंस बताई गई हैं‚ जिसका पालन करना जरूरी है। जानकारी के अनुसार सरकार ने एक डिटेल रिपोर्ट जारी करके Tomato Flu के सिम्पटम्स और इसके ट्रीटमेंट के बार में भी बतया है। 

Tomato Flu क्या है? (What is Tomato Flu?)

Tomato Flu एक वायरल डिजीज है। इसमें बॉडी पर टमाटर की तरह लाल सुर्ख दिखने वाले फफोले पड़ जाते हैं। इसके अधिकांश लक्षण अन्य वायरल संक्रमणों के समान ही रहते हैं। इनमें बुखार, दाने, जोड़ों का दर्द, थकान, जोड़ों में सूजन, गले में खराश शामिल हैं। इस वायरल की शुरुआत हल्के फीवर से होती है, फिर बाद में गले में खराश भी होने लगती है। दो से तीन दिन के बुखार के बाद शरीर पर लाल रंग के दाने दिखने लगते हैं जो बाद में छाले में तब्दील हो जाते हैं। ये ज्यादातर मुंह के भीतर, जीभ पर या मसूड़ों में देखने में आते हैं।

इंफेक्शन हो जाए तो क्या करें? (What to do if you get infected with Tomato Flu?)

  •  5 से 7 दिन के लिए खुद को आइसोलेट कर के रखें‚  बीमारी ज्यादा ना फैले, इसका ध्यान रखें।
  • अपने आस-पास के एरिया को साफ और स्वच्छ रखना सुनिश्चित करें। इसका ध्यान रखें की वायरल से संक्रमित बच्चे दूसरे बच्चों के साथ न ही खेलें, वहीं टॉयज़ भी शेयर न करें। 
  • फफोलों को बिल्कुल भी हाथ ना लगाएं, यदि हो जाए तो तुरंत हैंडवॉश करें। 
  • संक्रमित बच्चों के कपड़े, बर्तन सबकुछ अलग ही कर के रखें। 
  • बेहतर इलाज के लिए प्रॉपर आराम मिले इसका ध्यान रखें। ये तेजी से हीलिंग के लिए सोना असरदार रहता है।

यदि इंफेक्टेड हैं तो कैसे पता चल पाएगा? (How to know if you are infected with Tomato Flu?)

  • Respiratory Samples से ये आसानी से पता किया सकता है।  इंफेक्शन के 48 घंटे के भीतर ही सांस के नमूने दे सकते हैं।
  • Fecal (मल) Samples से भी वायरल का पता किया जा सकता है। मगर ये सैंपल 48 घंटे के भीतर देना जरूरी है। 

आपको ये जानकारी भी दे दें कि अभी तक टोमैटो फ्लू की कोई भी दवा नहीं बनी है, जो दवा वायरल होने पर दी जाती है, वही इसके खिलाफ इस्तेमाल की जा रही है। अभी तक जो मामले सामने आए हैं उनमें ज्यादातर 10 साल से कम उम्र के ही बच्चे हैं। ऐसे में सरकार सबसे ज्यादा बच्चों को लेकर ही चिंतित है और उन्हें इस वायरल से सुरक्षित रखने पर जोर दे रही है।

 Tomato Flu कैसे फैलता है? (How is Tomato Flu spread?)

गाइडलाइन में ये भी जानकारी दी गई है कि टोमैटो फ्लू का विशेष कारण जानने के लिए वैज्ञानिक अभी भी रिसर्च कर रहे हैं। मगर अभी इसे वायरल संक्रमण का एक रूप ही माना जा रहा है। कुछ वैज्ञानिकों ने यह भी सुझाव दिया है कि ये डेंगू या चिकनगुनिया का दुष्प्रभाव भी हो सकता है। वैज्ञानिकों के अनुसार इसका सोर्स एक वायरस है‚ लेकिन अब तक इस बारे में कोई जानकारी सामने नहीं आई है कि यह किस वायरस के कारण फैल रहा है या किस वायरस से  ये कनेक्टेड है। 

 Tomato Flu देश में कितना फैला चुका है? (How much has Tomato Flu spread in the country?)

इस समय केरल में टोमेटो फ्लू के सबसे ज्यादा केस मिल रहे हैं। जानकारी के अनुसार जुलाई तक पांच साल से कम उम्र के 82 बच्चे इस वायरस की जद में आ चुके हैं। ऐसे में बढ़ते मामलों को देखते हुए तमिलनाडु, कर्नाटक की सरकार भी अलर्ट मोड पर हैं। 

Tomato Fever Guideline | What is Tomato Fever | How much has Tomato Flu spread in the country | How is Tomato Flu spread

LGBTQIA+ का मतलब क्या है : पहनावे नहीं, सेक्सुशल प्रेफरेंस से पहचाने जाते हैं, जानिए इस समुदाय के बारे में वो सबकुछ जो आपको पता होना चाहिए 

 फिजिकल रिलेशन के बीच पुरुष धोखेबाजी कर रहे‚ इस पर हो सकती है सजा‚ समझिए आखिर कैसे Stealthing पर दुनियाभर में क्या कानून बन रहे‚ क्या भारत में भी ऐसा होगा‚ जानिए सबकुछ

 पीरियड्स का टैबू : कई देशों में इससे जुड़ी हैरान करने वाली प्रथाएं, कहीं पिया जाता है खून तो कहीं पहले पीरियड में होती लड़की की पूजा

सर गंगाराम ने बसाया था लाहौर‚ तो दिल्ली में वो एम्पीथियेटर बनाया जहां से क्वीन विक्टोरिया को भारत की महारानी घोषित किया गया 

 यदि कहें कि जानवर भी समलैंगिक होते हैं तो क्या आप यकीन करेंगे, पढ़िए तथ्य और शोध पर आधारित पूरी खबर 

 पोर्न फिल्मों को ब्लू फिल्म क्यों कहा जाता है?  जानिए इसके पीछे की पूरी कहानी

Was This Article Helpful?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *