Ghaziabad : टीवी एंकर रोहित रंजन को गिरफ्तार करने में छत्तीसगढ़ और यूपी पुलिस आपस में भिड़ी Read it later

Zee News Anchor Rohit Ranjan arrest
टीवी जर्नलिस्ट रोहित रंजन की गिरफ्तारी को लेकर भिड़ी यूपी और छत्तीसगढ़ की पुलिस – फोटो : Social media

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) को लेकर फेक न्यूज (Fake News) फैलाने के आरोप में जी न्यूज चैनल के एंकर रोहित रंजन (Zee News Anchor Rohit Ranjan) को नोएडा पुलिस ने जद्दोहद के बाद हिरासत में ले लिया है। इससे पहले रोहित को हिरासत में लेने के लिए नोएडा और छत्तीसगढ़ पुलिस (Chhattisgarh Police) आमने सामने आ गईं। बात इतनी बढ़ गई कि दोनों के बीच छीनाझपटी की नौबत आ गई।  हालांकि नोएडा पुलिस रोहित रंजन को ले जाने में कामयाब हुई। ज्ञात हो कि रोहित को छत्तीसगढ़ पुलिस कोर्ट से वारंट लेकर गिरफ्तार करने गाजियाबाद पहुंची थी। ऐसे में खुद को मुश्किलों से घिरा देख एंकर रोहित रंजन ने योगी सरकार और स्थानीय प्रशासन से मदद मांगी थी। रोहित के खिलाफ कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के बारे में गलत या फेक खबर चलाने का आरोप है। इसे लेकर एंकर पर छत्तीसगढ़ में केस दर्ज किया था।  

Zee News Anchor Rohit Ranjan

रोहित रंजन ने ट्वीट कर मांगी थी मदद

रोहित रंजन ने मंगलवार अल सवेरे 6.16 बजे ट्वीट कर मदद मांगी। उन्होंने लिखा कि बिना लोकल पुलिस को बताए छत्तीसगढ़ पुलिस मेरे घर के बाहर मुझे गिरफ्तार करने के लिए खड़ी है…। क्या ये कानूनन सही है? रोहित ने यह ट्वीट यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ, एसएसपी गाजियाबाद और एडीजी जोन लखनऊ को टैग भी किया।

Zee News Anchor Rohit Ranjan

गाजियाबाद पुलिस ने किया था ट्वीट

यूपी की गाजियाबाद (Ghaziabad) पुलिस को जब इस बात का पता चला कि छत्तीसगढ़ पुलिस टीवी जर्नलिस्ट  रोहित रंजन को गिरफ्तार करने के लिए इंदिरापुरम उनके घर पहुंची है तो उन्होंने रोहित रंजन के ट्वीट का जवाब दिया। गाजियाबाद पुलिस ने ट्वीट किया कि प्रकरण स्थानीय पुलिस के संज्ञान में है, थाना इंदिरापुरम पुलिस मौके पर है, नियमानुसार एक्शन लिया जाएगा।

छत्तीसगढ़ पुलिस ने कहा कानून में सुचित करने का नियम नहीं 

वहीं छत्तीसगढ़ पुलिस ने ट्वीट कर कहा कि सूचित करने के लिए ऐसा कोई नियम नहीं है। फिर भी, अब उन्हें सूचित किया है। पुलिस टीम ने आपको कोर्ट का गिरफ्तारी वारंट भी दिखाया। आपको सहयोग स्वरूप जांच में शामिल होना चाहिए और अपना पक्ष कोर्ट में रखना चाहिए।

कांग्रेस ने दर्ज करवाया था मामला

गौरतलब है कि कांग्रेस पार्टी ने जी न्यूज के एंकर रोहित रंजन के विरुद्ध राहुल गांधी का फर्जी वीडियो चलाने की शिकायत दर्ज कराई थी। इसके बाद चैनल ने कंटेंट वापस ले लिया था और सार्वजनिक माफी जारी की थी। वहीं पार्टी ने पूर्व सूचना एवं प्रसारण मंत्री राज्यवर्धन राठौड़ को अपने ट्विटर टाइमलाइन से छेड़छाड़ वाले वीडियो को नहीं हटाने के लिए भी नाराजगी जाहिर की थी।

क्या न्यूज  थी जिस पर रोहित रंजन गिरफ्तार हुए देखिए

Zee News Anchor Mr. Rohit Ranjan ran a show with misleading and fake claims.

Congress legal cell must not spare this culprit who spread fake news with wrong intentions. pic.twitter.com/NQ3jAHd2Bf

— Anshuman Sail (@AnshumanSail) July 1, 2022

गलत खबर चलाने के बाद जी न्यूज ने खेद जताया था

कल हमारे शो DNA में राहुल गांधी का बयान उदयपुर की घटना से जोड़ कर ग़लत संदर्भ में चल गया था, ये एक मानवीय भूल थी जिसके लिए हमारी टीम क्षमाप्रार्थी हैं, हम इसके लिए खेद जताते हैं pic.twitter.com/YGs7kfbKKi

— Rohit Ranjan (@irohitr) July 2, 2022

रोहित रंजन के सपोर्ट में आया चैनल देखिए

Zee Hindustan LIVE | Tries to arrest Zee NEWS anchor Rohit Ranjan #ZeeJhukegaNahi @irohitr https://t.co/L4bI3CQxyG

— Arpana Srivastava (@ArpanaSrivast14) July 5, 2022

Chhattisgarh Police | Fake News | Zee News Anchor Rohit RanjanChhattisgarh Police Has Reached Ghaziabad To Arrest Zee News Anchor | Noida | Rahul Gandhi | Uttar Pradesh | Zee Tv | 

ये भी पढ़ें – छत्तीसगढ़ में निर्भया जैसी हैवानियत:दुष्कर्म कर गुप्तांग में तवे का मूठ डाला, महिला ने बचाव की कोशिश की तो कर दी हत्या 

ये भी पढ़िए – ये क्यूट Rain Bugs क्यों हो रहे विलुप्त!

हॉलीवुड स्टार टॉम क्रूज की लाइफ स्टोरी के बारे में और ज्यादा व पूरी जानकारी यहां देखें

ये भी पढे़ं – मूसेवाला का SYL गाना बैन: बंदी सिखों की रिहाई और पंजाब-हरियाणा के विवादित नहर के मुद्दे की बात, YouTube से भी हटाया

ये भी पढ़ें –  Elon Musk ने फिर क्यों कहा ज्यादा बच्चे पैदा करो, भविष्यवाणी की – जापान दुनिया से गायब हो जाएगा

Was This Article Helpful?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *