IPL 2023: अर्जुन तेंदुलकर ने मचा दिया गदर, आईपीएल में Mumbai Indians के लिए डेब्यू तय Read it later

मुंबई: क्रिकेट के महान खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर के बेट के अर्जुन तेंदुलकर जल्द ही आईपीएल में डेब्यू कर सकते हैं। वे पिछले दो सीजन से टीम का हिस्सा हैं और इस बार भी रिटेन खिलाड़ियों की लिस्ट में शामिल हैं। हालांकि उन्हें डेब्यू का मौका नहीं मिला है, लेकिन अब 23 साल के अर्जुन तेंदुलकर का इस सीजन में डेब्यू तय माना जा रहा है। हाल ही अर्जुन तेंदुलकर ने विजय हजारे और सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी में शानदार प्रदर्शन करते हुए 10 मैचों में 12 विकेट चटका दिए थे। उनके बल्ले से कुछ रन भी निकले। आइए नजर डालते हैं मुंबई इंडियंस के उन खिलाड़ियों पर जिन्होंने इस घरेलू टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन कर अपने बल्ले और गेंद से प्रभावित किया।

तिलक वर्मा

दो शतक, एक अर्धशतक के साथ तिलक ने भारतीय घरेलू सर्किट में अपने प्रदर्शन के दम पर आग लगा दी और बांग्लादेश के आगामी दौरे के लिए भारत की ए टीम में अपना स्थान पक्का कर लिया है। उन्होंने हिमाचल प्रदेश में मौजूदा चैंपियन के खिलाफ 10 चौकों और 3 छक्कों की मदद से 106 गेंदों में 132 रनों की पारी खेलकर हैदराबाद की शानदार शुरुआत की।

कुछ मैचों के बाद वह सौराष्ट्र के खिलाफ अंतिम ओवरों के दौरान मैदान पर उतरे और 36 गेंदों में 45 रनों की पारी खेली। इसके बाद उन्होंने मणिपुर के खिलाफ अपना बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए 27 रन देकर दो विकेट झटके और बल्ले से 77 गेंदों में 126 रन की तूफानी पारी खेली।

बनाम एचपी – 132*

बनाम त्रिपुरा – 7 और 0/15

बनाम सौराष्ट्र – 45

बनाम यूपी – 22

बनाम मणिपुर – 126* और 2/27

बनाम गुजराती – 65

बनाम चंडीगढ़ – 5

रमनदीप सिंह

सिंह इज किंग! रमनदीप ने इस साल पंजाब के लिए शानदार प्रदर्शन किया है। ऑलराउंडर ने सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी से अपना अच्छा प्रदर्शन जारी रखा और विपक्षी टीम के लिए खतरनाक खिलाड़ी साबित हुए। उन्होंने बड़ौदा के बल्लेबाजों का विकेट लेकर अच्छी शुरुआत की! इसके बाद खेले गए मैचों में से एक में ओडिशा के खिलाफ मैच में पंजाब 5 विकेट खोकर 168 रन बनाकर 232 रनों का पीछा कर रहा था, तब उनकी पारी ने टीम को जीतने में मदद की। उन्होंने अच्छी बल्लेबाजी का मुजाहिरा करते हुए नाबाद 36 रनों की पारी खेली।

बनाम बड़ौदा – 5/17

बनाम जम्मू और कश्मीर – 15 * और 0/23

बनाम मध्य प्रदेश – 29 और 0/7

बनाम ओडिशा – 36 * और 0/17

बनाम नागालैंड – 0/15

बनाम कर्नाटक – 17 और 0/26

अर्जुन तेंदुलकर

मुंबई का यह लड़का गोवा के साथ रहकर क्रिकेट का पूरा लुत्फ उठा रहा है। बाएं हाथ के तेज गेंदबाज ने इस सीजन में कई अहम विकेट लिए हैं और बिहार व अरुणाचल प्रदेश के खिलाफ अपनी टीम को मैच जिताने में मदद की। उन्होंने विकास रंजन को बड़ी ही आसानी से पवेलियन का रास्ता दिखाया और इसी के साथ ही बिहार की बल्लेबाजी को कमजोर किया। उन्होंने सूर्य वंश को 63 रन पर आउट किया और अर्जुन ने किफायती गेंदबाजी करते हुए अरुणाचल प्रदेश के खिलाफ नौ ओवरों में सिर्फ 28 रन दिए। वह एक किफायती गेंदबाज साबित हुआ जो विकेट भी ले सकता है। इससे बेहतर और क्या हो सकता है!

बनाम आंध्र – 0/15

बनाम बिहार – 2/32

बनाम केरल – 2* और 0/57

बनाम तमिलनाडु – 2/61

बनाम अरुणाचल – 1/28

बनाम छत्तीसगढ़ – 9* और 2/44

बनाम हरियाणा – 14* और 1/22

कुमार कार्तिकेय

बाएं हाथ के स्पिनर ने अपने बेहतरीन खेल से चयनकर्ताओं का ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया। एक बेहतरीन रणजी और SMAT सीजन के बाद, विजय हजारे ट्रॉफी में कुमार कार्तिकेय का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नागालैंड के खिलाफ आया, जहां उन्होंने दो शीर्ष बल्लेबाजों के विकेट लिए।

24 वर्षीय खिलाड़ी ने 2.51 इकॉनमी रेट के साथ सबसे पहले श्रीकांत मुंडे का विकेट झटका और उसके बाद उन्होंने कप्तान होकितो झिमोमी को पवेलियन का रास्ता दिखाया। इसे ही हम कड़क प्रदर्शन कहते हैं!

बनाम जम्मू और कश्मीर – 0 * और 1/32

बनाम ओडिशा – 1/23

बनाम उत्तराखंड – 9* और 1/45

बनाम पंजाब – 6 और 0/43

बनाम नागालैंड – 2/18

बनाम बड़ौदा – 1/0

आकाश मधवाल

उत्तराखंड के दाएं हाथ के बल्लेबाज आकाश मधवाल ने इस साल ही गेंदबाजी में अपना हाथ आजमाया और नागालैंड के खिलाफ अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के साथ खेले छह मैचों में 4 विकेट हासिल किए।

भले ही उन्होंने बड़ा विकेट ना लिया हो, लेकिन उनकी रनों को रोकने की क्षमता इस सीजन में उनकी टीम के लिए बहुत ही मददगार साबित हुई।

बनाम ओडिशा – 0/20

बनाम पंजाब – 8 और 1/54

बनाम मध्य प्रदेश – 0 और 1/60

बनाम नागालैंड – 2/23

बनाम बड़ौदा – 13 और 0/24

बनाम जम्मू और कश्मीर – 0/30

Was This Article Helpful?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *