मानसून विदाई ने तबाही मचाई : केरल बाढ़ में अब तक 27 की मौत, उत्तराखंड, दिल्ली, UP और MP में भारी बारिश की आशंका

मानसून विदाई ने तबाही मचाई
केरल के कोट्‌टायम जिले में प्लापल्ली पंडालम इलाके में लैंडस्लाइड ढह गए अपने मकान के सामने खड़ी महिलाएं।

मानसून की विदाई लगभग हो चुकी है, लेकिन बारिश ने एक बार फिर देश को अपने आगोश में ​ले लिया है। कहीं ये बारिश सुकून दे रही है तो कहीं कहर बरपा रही है। केरल में तो लगातार हो रही बारिश ने स्थिति को गंभीर बना रखा है। यहा सेना बचाव कार्य में जुटी है। 

यहां बाढ़ और भूस्खलन के कारण कुल 27 लोगों की अब तक जान चली गई है, जबकि 8 जन लापता हैं। केरल के कोट्टायम जिले में कल शाम आई बाढ़ में एक पूरा घर बह गया। सड़क पर खड़े लोगों ने घटना का वीडियो बना लिया। हादसे के वक्त घर में कोई नहीं था। किसी के हताहत होने की खबर नहीं है।

सेना कवाली, कोट्टायम में मलबे में लापता लोगों के लिए बचाव अभियान चला रही है।

राहत एवं बचाव कार्य में लगे वायुसेना के जवान

रक्षा पीआरओ ने कहा कि कन्नूर से सेना के जवानों का एक दल इंजीनियरिंग और चिकित्सा इकाइयों के साथ बचाव अभियान के लिए वायनाड पहुंच गया है। सेना की ओर से अब तक कुल 3 यूनिट तैनात की जा चुकी हैं। राहत सामग्री के साथ नेवी हेलिकॉप्टर से बारिश प्रभावित इलाकों का दौरा जारी है। वायु सेना स्टेशन शांगमुघम में वायुसेना के दो हेलीकॉप्टर एमआई-17 स्टैंडबाय पर हैं।

कोट्‌टायम जिले के कूट्‌टीकल इलाके में भारी बारिश से पहाड़ पर भूस्खलन हुआ जिससे पहाड़ दो हिस्सों में बंट गया और बीच में नदी बन गई।

वहीं, मीनाचल और मनीमाला में नदियां उफान पर हैं। बारिश से जुड़ी घटनाओं में कई लोग घायल हो गए हैं। साथ ही कई लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। यहां तक ​​कि कई जिलों में बांध अपनी पूरी क्षमता के करीब पहुंच गए हैं। राज्य के पहाड़ी इलाकों में कई छोटे कस्बे और गांव बाहरी दुनिया से पूरी तरह कटे हुए हैं.

तिरुवनंतपुरम, कोल्लम सहित इन 11 जिलों में येलो अलर्ट
केरल के बाढ़ प्रभावित इलाकों में NDRF की टीम राहत और बचाव कार्य में लगी।

तिरुवनंतपुरम, कोल्लम सहित इन 11 जिलों में येलो अलर्ट

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने तिरुवनंतपुरम, कोल्लम, पठानमथिट्टा, कोट्टायम, अलाप्पुझा, एर्नाकुलम, इडुक्की, त्रिशूर, पलक्कड़, मलप्पुरम और कोझीकोड जिलों में भारी बारिश के लिए येलो अलर्ट जारी किया है। वहीं, दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) के कुछ हिस्सों में रविवार को छिटपुट बारिश हुई। इस बीच, मौसम विभाग ने उत्तराखंड, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और पंजाब के कुछ हिस्सों में भारी बारिश के लिए रेड और ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

#KeralaFloods In Kerala floods
Where is govt, where is BJP, & where is social cirtified workers rss & even where is Mob Jai Sri ramm (Andhbaktt)….#SaveHumanity #KeralaFlood2021 #KeralaRains pic.twitter.com/4qVI3VFdRq

— Thumbs Up Bharat (@thumbsupbharat) October 18, 2021

Several people have been injured and displaced while 18 have died as heavy rains pounded south and central Kerala causing flash floods and landslides in many parts of the state. #WesternGhats #Kerala #KeralaFloods #KeralaRains #kottyam #KarnatakaRains #KeralaRains #landslides pic.twitter.com/NCchDfbiZ7

— Thumbs Up Bharat (@thumbsupbharat) October 18, 2021

इंजीनियरिंग टास्क फोर्स के जल्द ही वायनाड पहुंचने की उम्मीद

रक्षा पीआरओ ने कहा कि कन्नूर से सेना के जवानों का एक दल इंजीनियरिंग और चिकित्सा इकाइयों के साथ बचाव अभियान के लिए वायनाड पहुंच गया है। बेंगलुरु से इंजीनियरिंग टास्क फोर्स के जल्द ही वायनाड पहुंचने की उम्मीद है। सेना की ओर से अब तक कुल 3 यूनिट तैनात की जा चुकी हैं। राहत सामग्री के साथ नेवी हेलिकॉप्टर से बारिश प्रभावित इलाकों का दौरा जारी है. वायु सेना स्टेशन शांगमुघम में वायुसेना के दो हेलीकॉप्टर एमआई-17 स्टैंडबाय पर हैं।

The situation is getting really worse. ~ Be Stay safe Guys , Pray for #Kerala Folded hands#KeralaFloods #keralarains #kerembuersin #KeralaFlood2021 pic.twitter.com/gmij3nrYuz

— Thumbs Up Bharat (@thumbsupbharat) October 18, 2021

केरल के सीएम विजयन ने कहा- हालात गंभीर

केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने स्थिति को गंभीर बताया है. उन्होंने कहा कि अरब सागर के ऊपर बने निम्न दबाव के सिस्टम के कारण आईएमडी ने राज्य में व्यापक भारी बारिश की चेतावनी दी है। वहीं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि केरल के कुछ हिस्सों में भारी बारिश और बाढ़ को देखते हुए स्थिति पर लगातार नजर रखी जा रही है. केंद्र सरकार जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए हर संभव प्रयास करेगी।

उत्तराखंड में रेड अलर्ट
उत्तराखंड के चमोली में हो रही बारिश की तस्वीर। बारिश के रेड अलर्ट के चलते बद्रीनाथ यात्रा को रोक दिया गया है।

उत्तराखंड में रेड अलर्ट

उत्तर भारत की बात करें तो मध्य प्रदेश, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड में भी बारिश हो रही है। उत्तराखंड के लिए मौसम विभाग ने सोमवार को रेड अलर्ट और मंगलवार को ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, चार धाम यात्रा को फिलहाल के लिए रोक दिया गया है. सोमवार को स्कूल बंद कर दिए गए हैं।

मध्य प्रदेश में 24 घंटे से बरस रही पानी की बारिश
भोपाल के रायसेन रोड पर बिजली कालोनी का हाल।

मध्य प्रदेश में 24 घंटे से बरस रही पानी की बारिश

बंगाल की खाड़ी में बने सिस्टम की वजह से भोपाल समेत पूरे राज्य में पिछले 24 घंटे से लगातार बारिश हो रही है. भोपाल में 2 इंच तक बारिश के कारण जगह-जगह बाढ़ के कारण जाम की स्थिति बन गई तो इंदौर में भी आधा इंच तक बारिश हुई. होशंगाबाद, बुरहानपुर और ग्वालियर में दो से तीन इंच पानी गिरा। कुछ घंटों की बारिश के कारण बुरहानपुर का महाराष्ट्र से संपर्क भी टूट गया। बुरहानपुर को महाराष्ट्र से जोड़ने वाले बहादरपुर रोड पर नाले का पानी ओवरफ्लो होने से मध्य प्रदेश-महाराष्ट्र का संपर्क करीब एक घंटे तक ठप रहा.

बंगाल में 3 दिन बारिश की संभावना

बंगाल में 17 से 20 अक्टूबर तक बारिश की संभावना है। मौसम विभाग के मुताबिक, उत्तरी तेलंगाना और आसपास के इलाकों में कम दबाव का क्षेत्र बनने से बंगाल में बारिश की संभावना है। यहां गरज के साथ बिजली भी गिर सकती है।

Weather Updates | Rainfall In Kerala |  Kerala Rain Flood |  Landslides Worsened Situation |  Death Missing People Numbers | MP |  UP | Uttarakhand | Delhi NCR |  Haryana | West Bengal On | Kerala Rain Flood 2021 | 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *