एक N-95 मास्क को कितनी बार पहने? सैनिटाइज का सही तरीका क्या है? जानिए उन सवालों के जवाब जो आपको रोज कन्फ्यूज करते हैं Read it later

एक N-95 मास्क को कितनी बार पहने? सैनिटाइज का सही तरीका क्या है?
Photo iStock – by Suprabhat-Dutta

कोरोना का नया रूप ओमीक्रोन दुनियाभर में फैल रहा है। इस बीच विशेषज्ञ लोगों को मास्क पहनने के लिए प्रेरित कर रहे हैं। उनके मुताबिक, कोरोना संक्रमण से बचने के लिए एन-95 मास्क सबसे अच्छा है। यह हमें वायरस के कणों से 95% तक सुरक्षा प्रदान करता है। वहीं दूसरी ओर सर्जिकल मास्क 75% तक और कपड़े के मास्क केवल 60% तक प्रभावी होते हैं।

विशेषज्ञों की सलाह पर आपने कपड़े के मास्क को एन-95 मास्क से बदल दिया होगा, लेकिन क्या आप इसके सही इस्तेमाल से पूरी तरह वाकिफ हैं? एन-95 मास्क पहनने के साथ-साथ हमें यह भी जानना होगा कि इसे कैसे, कितनी बार और कितनी देर तक इस्तेमाल किया जा सकता है।

 एन-95 मास्क से जुड़े हर पहलू को विस्तार से समझें

कोरोना से बचने के लिए N-95 मास्क पहनना क्यों है जरूरी?

एन-95 मास्क एक मेडिकल ग्रेड मास्क है, यानी पूरी दुनिया में इसका इस्तेमाल स्वास्थ्यकर्मी करते हैं। चिकित्सा क्षेत्र में इसे गोल्ड स्टैंडर्ड मास्क माना जाता है। ये पॉलीप्रोपाइलीन फाइबर से बने होते हैं, जो कोरोना वायरस को हवा से आपके शरीर में प्रवेश करने से रोकते हैं। 

एन-95 मास्क छोटे और बड़े एरोसोल को फिल्टर करता है। वहीं, कपड़े के मास्क केवल बड़े एरोसोल को फिल्टर करते हैं। सर्जिकल मास्क हमारे चेहरे पर ठीक से फिट नहीं होते हैं। इसलिए कपड़े और सर्जिकल मास्क से एन-95 मास्क को बेहतर माना जाता है।

आपका एन-95 मास्क कैसा होना चाहिए?
Photo iStock – by Akhilesh

आपका एन-95 मास्क कैसा होना चाहिए?

आपके एन-95 मास्क की फिटिंग ऐसी होनी चाहिए कि यह आपके मुंह, नाक और ठुड्डी को ढके। इसके साथ ही गालों के दोनों तरफ और ठुड्डी के नीचे एक भी गैप नहीं छोड़ना चाहिए। मास्क के तार ढीले नहीं होने चाहिए। बाजार में एन-95 मास्क अलग-अलग साइज में उपलब्ध हैं। आप छोटे, मध्यम और बड़े आकार में से चुन सकते हैं।

ऐसे एन-95 मास्क से रहें दूर

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के मुताबिक, अगर मास्क में वॉल्व हैं तो उनका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। इस तरह के मास्क से सांस बिना फिल्टर किए ही गुजरती है। इसके अलावा बाजार में कुछ नकली एन-95 मास्क भी उपलब्ध हैं, जिनसे सावधान रहना जरूरी है। असली N-95 मास्क खोजने के लिए, इन 3 बातों पर विचार करें:

मास्क पर ब्रांड, निर्माता और ट्रेडमार्क स्पष्ट रूप से दिखाई देना चाहिएॽ

सीडीसी इंडेक्स में मास्क पर ब्रांड का नाम चेक किया जा सकता है। इससे पता चलेगा कि एनआईओएसएच ने मास्क को मंजूरी दी है या नहीं। [भारत के आईसीएमआर की तरह, अमेरिकी स्वास्थ्य एजेंसी सीडीसी (रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र) और एनआईओएसएच (नेशनल इंस्टीट्यूट फॉर ऑक्यूपेशनल सेफ्टी एंड हेल्थ) सीडीसी का हिस्सा है। अगर आप ऑनलाइन मास्क खरीद रहे हैं तो मास्क की हिस्ट्री और रिव्यू जरूर चेक करें।

कितनी बार एन-95 मास्क का इस्तेमाल करना चाहिए?
Photo iStock – by Soumen Hazra

कितनी बार एन-95 मास्क का इस्तेमाल करना चाहिए?

यह आपके मास्क पर निर्भर करता है। एन-95 मास्क दो तरह के होते हैं- धो सकते हैं और न धो सकते हैं। कई पैकेट्स पर लिखा होता है कि आप कितनी बार अपने मास्क को धोकर इस्तेमाल कर सकते हैं। आप पैकेट पर दिए गए निर्देशों का पालन करके इन मास्क का उपयोग कर सकते हैं।

इसके अलावा बाजार में बिकने वाले कुछ एन-95 मास्क पर ‘सिंगल यूज’ का टैग भी लगा होता है। ऐसे में इन मास्क का एक बार इस्तेमाल किया जाए या नहीं, इसको लेकर भी लोग काफी असमंजस में हैं. अमेरिका की वर्जीनिया टेक रिसर्च यूनिवर्सिटी के लिन्से मार का कहना है कि यह टैग स्वास्थ्य कर्मियों के लिए मान्य है। चूंकि ये लोग पूरे दिन हाई रिस्क जोन में रहते हैं, इसलिए वे केवल एक बार ही मास्क का इस्तेमाल करते हैं।

Linsey Marr के अनुसार, यदि आप चिकित्सा क्षेत्र में नहीं हैं, तो आप 1 सप्ताह तक एक बार उपयोग किए जाने वाले N-95 मास्क का उपयोग कर सकते हैं। कुछ विशेषज्ञ इसे 40 घंटे तक इस्तेमाल करने की सलाह देते हैं, जिसमें कोई नुकसान नहीं है। इन सबके बाद वैसे भी यह मास्क गंदा, ढीला और खुरदरा हो जाता है।

कुछ डॉक्टर कहते हैं कि आपको बारी-बारी से 2-3 मास्क पहनने चाहिए। यानी मास्क का इस्तेमाल करने के बाद इसे 2-3 दिन के लिए आराम दें। इससे संक्रमण का खतरा और भी कम होगा।

एन-95 मास्क को सैनिटाइज कैसे करें?
Photo iStock – by Soumen Hazra

एन-95 मास्क को सैनिटाइज कैसे करें?

इस प्रश्न के उत्तर को लेकर अधिकांश लोग असमंजस में हैं। अगर आपका मास्क धोने योग्य है, तो आपको इसे उतारने के तुरंत बाद धोना चाहिए। लेकिन अगर आपका मास्क धोने योग्य नहीं है, तो आपको इसे बिल्कुल भी नहीं धोना चाहिए। Linsey Marr बताते हैं कि N-95 मास्क में एक विशेष इलेक्ट्रोस्टैटिक मैकेनिज्म होता है, जिसके जरिए यह वायरस को फिल्टर करता है। मास्क में पानी लगते ही यह मैकेनिज्म खराब हो जाता है।

लिन्सी मार के अनुसार, नॉन-वॉशेबल मास्क का उपयोग करने के बाद इसे धूप में रखना चाहिए। गर्मी से वायरस के कण जल्दी मर जाते हैं। इसके अलावा मास्क का इस्तेमाल करने के बाद आप इसे किसी पेपर बैग या प्लास्टिक बैग में 2-3 दिन के लिए रख दें। इससे संक्रमण का खतरा काफी हद तक कम हो जाता है। यूएस फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफडीए) के मुताबिक, एन-95 मास्क को हाइड्रोजन पेरोक्साइड (एच2ओ2) से भी सैनिटाइज किया जा सकता है।

How Often Should An N 95 Mask Be Worn | What Is The Right Way To Sanitize  N 95 Mask | What Is The Right Way To Sanitize  The Mask | 

Was This Article Helpful?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *