WHO ने फिजिकल एक्टिविटी की नई गाइडलाइन जारी की, जानिए खुद को फिट रखने के लिए रोज कितनी एक्सरसाइज जरूरी

 

WHO Physical Activity guidline

2020 में ज्यादातर लोगों ने अपना समय घर पर बिताया। ऐसी स्थिति में, शारीरिक गतिविधि ना के बराबर हो गई। इससे लोगों के शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य पर गहरा प्रभाव पड़ा है। यही कारण है कि WHO (विश्व स्वास्थ्य संगठन) ने अब एक नई शारीरिक गतिविधि की नई गाइड लाइन जारी ​की है। यह बताता है कि खुद को फिट और स्वस्थ रखने के लिए आपको रोजाना कितनी एक्सरसाइज करनी चाहिए।

डब्ल्यूएचओ का कहना है कि खुद को शारीरिक और मानसिक रूप से फिट रखने के लिए एक्सरसाइज बहुत जरूरी है। अगर दुनिया का हर व्यक्ति शारीरिक गतिविधि करना शुरू कर दे तो हर साल होने वाली 40 से 50 लाख मौतों से बचा जा सकता है। दुनिया में लगभग 27.5% वयस्क और 81% किशोर डब्ल्यूएचओ के दिशानिर्देशों को पूरा नहीं करते हैं। पिछले एक दशक में उनमें कोई सुधार नहीं हुआ है।

ज्यादातर देशों में लड़कियां और महिलाएं लड़कों और पुरुषों की तुलना में कम शारीरिक गतिविधि कर रही हैं। इसी समय, अमीर और गरीब के बीच, विभिन्न देशों में लोगों के बीच शारीरिक गतिविधि में काफी अंतर आया है।

सभी उम्र के लोग अलग-अलग एक्टिविटीज कर सकते हैं

डब्ल्यूएचओ ने सभी दिशाओं के लोगों के लिए उनके दिशानिर्देशों को पूरा करने के लिए विभिन्न शारीरिक गतिविधियों को निर्धारित किया है। पहली बार, दिशानिर्देश लगातार बैठे रहने की आदतों और इसके स्वास्थ्य जोखिम पर प्रकाश डालता है। इसके साथ ही गर्भवती, प्रसव कराने वाली और विकलांगों के लिए सुझाव दिए गए हैं।

WHO ने बैठने के समय को कम करने और व्यायाम की आदतों को बढ़ाने के लिए कई निर्देश दिए हैं।

WHO के नए दिशानिर्देशों की 6 महत्वपूर्ण बातें, जिन्हें जानना जरूरी है-

1. शारीरिक गतिविधि दिल, शरीर और दिमाग को फिट रखती है

दैनिक शारीरिक गतिविधि से कई तरह की बीमारियों को दूर किया जा सकता है। इनमें हृदय, मधुमेह और कैंसर जैसी बीमारियां शामिल हैं। दुनिया में एक चौथाई मौतें उनसे होती हैं। शारीरिक गतिविधि अवसाद और चिंता की ओर ले जाती है। साथ ही सोचने, सीखने और फिट रहने में मदद करता है।

2. हर सप्ताह 150 से 300 मिनट की एरोबिक गतिविधि

वयस्क लोगों को स्वस्थ रहने के लिए हर हफ्ते 150 से 300 मिनट की एरोबिक गतिविधि करनी चाहिए। बच्चों को रोजाना कम से कम 60 मिनट करना चाहिए।

3. हर तरह की शारीरिक गतिविधि फायदेमंद है

यह आवश्यक नहीं है कि हम फिट रहने के लिए कुछ चुनिंदा गतिविधि करें। इसके लिए किसी भी तरह का काम जिसमें कड़ी मेहनत शामिल है, शामिल किया जा सकता है। इसके अलावा, कोई भी खेल खेल सकता है। साइकिल से जा सकते हैं या पैदल और दौड़ सकते हैं।

4. मांसपेशियों को ताकत मिलती है

60 से 65 साल के बुजुर्गों के लिए शारीरिक रूप से सक्रिय रहना बहुत जरूरी है। इससे उनकी मांसपेशियां मजबूत होती हैं। इसके अलावा, कोई शारीरिक कमजोरी नहीं है। स्वास्थ्य भी बेहतर है।

5. ज्यादा देर तक बैठना अच्छा नहीं है

जो लोग शारीरिक रूप से सक्रिय नहीं हैं और लंबे समय तक एक ही स्थान पर बैठे रहते हैं, उनमें कैंसर, हृदय और मधुमेह जैसी बीमारियों का खतरा अधिक होता है। ऐसे में अगर आप स्वस्थ रहना चाहते हैं, तो लंबे समय तक बैठे रहने की आदत को कम करना होगा। शारीरिक गतिविधि पर ध्यान देना होगा।

6. बैठने की आदत कम करें

सभी को अपनी जीवनशैली में शारीरिक सक्रियता बढ़ानी चाहिए। गर्भवती महिलाओं, जिन महिलाओं को प्रसव कराया गया है और जो विकलांग हैं, उन्हें लगातार एक जगह बैठने से बचना चाहिए।

कुछ महत्वपूर्ण बातें जो आपको पता होनी चाहिए-

5 से 17 वर्ष तक के बच्चों के लिए –

दिशानिर्देशों में कहा गया है कि 5 से 17 साल के बच्चों को हर दिन कम से कम 60 मिनट की शारीरिक गतिविधि करनी चाहिए। इससे बच्चे फिट रहेंगे, उन्हें हार्ट की समस्या नहीं होगी। वे मानसिक रूप से भी स्वस्थ रहेंगे। बच्चों को ज्यादा देर तक नहीं बैठना चाहिए।

Like and Follow us on :

Was This Article Helpful?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *