अफगानिस्तान बना तालिबानी: दुनियाभर में जो बाइडेन के रुख पर सवाल उठ रहे, ट्रम्प का कमेंट, अफगान के हालात पर क्या मेरी याद आ रही है

दुनियाभर में जो बाइडेन के रुख पर सवाल उठ रहे

अफगानिस्तान से अमेरिकी सैना वापसी के बाद पहली बार राष्ट्रपति जो बाइडेन आज राष्ट्र को संबोधित करेंगे। बता दें कि अफगानिस्तान से सैनिकों की वापसी के खिलाफ रविवार और सोमवार को सैकड़ों लोगों ने व्हाइट हाउस के बाहर प्रदर्शन किया। 

वहीं अफगानिस्तान पर तालिबान के गैरकानूनी रूप से बंदूक की नोक पर कब्जे को लेकर अमेरिकी मीडिया समेत दुनियाभर में जो बाइडेन के निर्णय पर सवाल उठ रहे हैं।

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और कुछ डेमोक्रेटिक सीनेटर भी बाइडेन प्रशासन पर अफगानिस्तान को ठीक से हैंडल न कर पाने में विफल रहने का आरोप लगा रहे हैं। बाइडेन के सेना वापसी के निर्णय से ही अमेरिका को अफगानिस्तान में शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा है।

तीन दिन से वाशिंगटन से बाहर कैंप डेविड थे बाइडेन

जो बाइडेन उस समय भी वाशिंगटन में नहीं थे जब तालिबान अफगानिस्तान की राजधानी और सबसे सुरक्षित शहर काबुल पर कब्जा कर रहा था। अमेरिकी राष्ट्रपति शुक्रवार से कैंप डेविड में थे। इस दौरान तालिबान ने कंधार पर भी कब्जा कर लिया। वे कुछ ही देर पहले व्हाइट हाउस पहुंचे हैं।

ट्रंप का अफगान हालात को लेकर तंज- क्या लोग मुझे मिस कर रहे हैं?

अफगानिस्तान में तेजी से बिगड़ते हालात और वहां तालिबान के कब्जे के बाद पूर्व राष्ट्रपति ट्रंप ने बाइडेन पर तंज कसा। ट्रंप ने अमेरिकी लोगों से पूछा- क्या आप मुझे अफगानिस्तान के हालात देखकर मिस कर रहे हैं?

हालांकि इससे पहले भी ट्रंप बाइडेन के फैसले पर सवाल उठा चुके हैं। पिछले साल नवंबर में भी इस मुद्दे पर दोनों के बीच काफी बयानबाजी हुई थी. हालांकि, तब वहां राष्ट्रपति चुनाव चल रहा था।

अमेरिकी विदेश मंत्री ने कहा- अफगानों को खुद से मुकाबला करना चाहिए

अफगानिस्तान में अभी भी मौजूद अमेरिकी सेना की वापसी के साथ, तालिबान ने अपना प्रभाव बढ़ाना शुरू कर दिया था। इस पर जब सवाल उठे तो अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकेन ने कहा था- अफगानिस्तान की जनता को अब अपनी किस्मत खुद तय करनी होगी।

अमेरिका में बाइडेन प्रशासन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन

अफगानिस्तान के हालात और अमेरिका की भूमिका को लेकर अमेरिका के कई शहरों में सोमवार के बाद रविवार को विरोध प्रदर्शन हुआ। कई प्रदर्शनकारी बैनर और पोस्टर लेकर व्हाइट हाउस के बाहर भी पहुंच गए। 

इन लोगों का आरोप है कि अमेरिका ने अपने दम पर अफगानिस्तान छोड़ा और तालिबान को रोकने के लिए कोई रणनीति नहीं बनाई।

  • US Afghanistan  | 
  •  Joe Biden To Deliver Remarks On Afghanistan | Donald Trump | 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *