राजस्थान में LPG Gas Pipeline मार्च 2023 से: 500 रुपए में मिलेगा कनेक्शन, इन चार जिलों से होगी शुरुआत Read it later

 

LPG Gas pipeline in Rajasthan
प्रदेश में अगले 8 साल के भीतर 96 लाख पाइपलाइन इंस्टॉल की जाएंगी। फोटो: सोशल मीडिया।

मेट्रोपॉलिटन सिटी की तरह अब राजस्थान में भी LPG पाइपलाइन (LPG Gas pipeline in Rajasthan) अगले साल मार्च से प्रदेशवासियों को मिलने लगेगी। घरों तक पाइपलाइन से गैस पहुंचाने की शुरुआत पहले राज्य के चार जिलों से होगी। इसे लेकर राजस्थान स्टेट गैस लिमिटेड ने प्रक्रिया शुरू कर दी है। 

ऐसे में माना जा रहा है कि अगले साल मार्च महीने तक जयपुर सहित राजस्थान के चार जिलों में कंपनी पाइप लाइन के जरिए गैस सप्लाई शुरू कर देगी। ऐसे में प्रदेश के उपभोक्ताओं को हर महीने या पंद्रह दिन में सिलेंडर खत्म होने और भारीभरकम सिलेंडर के बोझ से छुटकारा मिलेगा।  गैस पाइपलाइन कनेक्शन के रजिस्ट्रेशन से लेकर आम उपभोक्ताओं को कितना खर्च करना होगा। इसकी पूरी जानकारी आईए आपको बताते हैं। 

सीएम अशोक गहलोत के सलाहकार डॉ गोविंद शर्मा ने जानकारी देते हुए कहा कि सरकार ने योजना तैयार कर पाइपलाइन से घरेलू कनेक्शन देने वाली कंपनियों को समयबद्ध तरीके से क्रियान्वयन के निर्देश दिए हैं।

ये भी पढ़ें – क्या अग्निपथ से अंधकार में है युवाओं का भविष्य पथ! सेना में संविदा भर्ती कितनी सही, क्या योजना का मकसद ही कम पैसों में जवानों की भर्ती करना है? 

 8 साल के भीतर 96 लाख पाइपलाइन बिछाई जाएंगी

पूरी योजना की  बात करें तो प्रदेश में अगले 8 साल के भीतर 96 लाख पाइपलाइन इंस्टॉल की जाएंगी। इसके जरिए उपभोक्ताओं को LPG गैस कनेक्शन दिए जाएंगे। राजधानी जयपुर की बात करें तो शहर में पाइप लाइन से घरेलू गैस कनेक्शन की शुरुआत मार्च 2023 से होनी है। उपभोक्ताओं फिलहाल कनेक्शन के रजिस्ट्रेशन के लिए कुछ नहीं देना होगा। म​तलब कि ये पूरी तरह से फ्री होगा। बस उपभोक्ताओं से कनेक्शन का पैसा 500-500 रुपए की इंस्टॉलमेंट के तौर पर लिया जाएगा।

राजस्थान स्टेट गैस लिमिटेड (Rajasthan State Gas Limited) के प्रबंध निदेशक मोहन सिंह के अनुसार राजस्थान में 230 इंडस्ट्रियल और कॉमर्शियल पाइपलाइन से गैस कनेक्शन पहले ही जारी हो चुके हैं। वहीं पेट्रोलियम एंड नेचुरल गैस रेग्युलेटरी बोर्ड ने राजस्थान के सभी 33 जिलों में इन्हें पाइपलाइन कनेक्शन के लिए ऑथोराइज भी कर दिया है।

LPG Gas pipeline in Rajasthan
प्रबंध निदेशक मोहन सिंह के अनुसार राजस्थान में 230 इंडस्ट्रियल और कॉमर्शियल पाइपलाइन से गैस कनेक्शन पहले ही जारी हो चुके हैं। फोटो: राजस्थान जनसंपर्क विभाग

RSGL के एमडी मोहन सिंह ने कहा कि राज्य में अब तक 170 से अधिक सीएनजी स्टेशन स्थापित किए जा चुके हैं। मोटे अनुमान के मुताबिक करीब 230 इंडस्ट्रियल और कमर्शियल पाइपलाइन गैस कनेक्शन भी जारी किए गए हैं।

LPG Gas pipeline in Rajasthan
अगले साल मार्च 2023 से पहले इन तीन शहरों और जयपुर में पाइपलाइन से LPG गैस पहुंचाने की योजना। फोटो: सोशल मीडिया।

प्रदेश में 37824 किलोमीटर गैस पाइपलाइन बिछाने का लक्ष्य

सचिवालय में प्रदेश के विभिन्न शहरों में पाइपलाइन गैस उपलब्ध कराने के लिए 20 जिलों में कार्यरत अधिकृत की गई कंपनियों के कार्य का रिव्यू करते हुए गोविंद शर्मा ने कहा कि राज्य सरकार राज्य में पाइपलाइन के माध्यम से घरेलू गैस की सुविधा बढ़ाने के लिए आ रही है समस्याओं को लेकर गंभीर हैं। योजना के अनुसार 8 साल में 37824 किलोमीटर गैस पाइपलाइन बिछाने का लक्ष्य है।

अजमेर, पाली, राजसमंद में चल रही पाइपलाइन बिछाने की प्रक्रिया

जयुपर के अलावा तीन जिलों अजमेर, पाली, राजसमंद में पाइपलाइन डलने की प्रकिया शुरू हो गई है। जिसके तहत अगले साल मार्च 2023 से पहले इन तीन शहरों और जयपुर में पाइपलाइन से LPG गैस पहुंचाने की योजना है। इसी तरह घरेलू उपभोक्ता के साथ इंडस्ट्रीज़ और होटल व रेस्टोरेंट को भी पाइपलाइन के कनेक्शन दिए जाएंगे। राजसमंद जिले में IGL (इंद्रप्रस्थ गैस एजेंसी प्राइवेट लिमिटेड) के जरिए घरों तक गैस पाइप लाइन बिछाई जानी है। अजमेर में IGL ने तो काम भी शुरू कर दिया है।

विभिन्न कंपनियां अलग-अलग सिटीज में LPG पाइपलाइन के लिए राजस्थान सरकार के साथ जुड़ती जाएंगी। मार्च में इसकी सप्लाई की शुरुआत पहले चार जिलों हो जाएगी। पेट्रोलियम एंड नेचुरल गैस रेगुलेटरी बोर्ड ने राजस्थान के सभी 33 जिलों में पाइप लाइन बिछाने के काम को मंजूरी दे दी है। जैसे जैसे शहरों का नंबर आता जाएगा उस आधार पर रजिसट्रेशन भी शुरू हो जाएंगे। 

LPG Gas pipeline in Rajasthan
पाइप लाइन कनेक्शन का फायदा ये होगा कि लोगों को हर माह सिलेंडर की झंझट से छुटकारा मिलेगा। फोटो: सोशल मीडिया।

गैस पाइप लाइन के लिए निशुल्क रजिस्ट्रेशन यहां से कराएं

 गैस पाइपलाइन कनेक्शन के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशंस rsgl.rajasthan.gov.in पर किए जा सकेंगे। इस पाइप लाइन कनेक्शन का फायदा ये होगा कि लोगों को हर माह सिलेंडर की झंझट से छुटकारा मिलेगा। वहीं एडवांस बुकिंग, सिलेंडर बदलने और डिलीवरी की दिक्कतों सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि लोगों को सिलेंडर घर पर नहीं रखना होगा। वहीं गैस खत्म होने की दिक्कत भी नहीं होगी।

जितनी गैस यूज हो उतना ही पैसा

बिजली और पानी की तहर अब हर घर में गैस सप्लाई ​की जाएगी। बिल मीटर के जरिए बनेगा। जिस तरह आप बिजली और पानी के मीटर के हिसाब से पैसा अदा करते हैं। यानि जितनी गैस यूज हो उतना ही पैसा। वहीं कनेक्शन के लिए उपभोक्ताओं से सहमति ली जाएगी। खास बात ये है कि इसमें सिलेंडर की तरह एडवांस पेमेंट नहीं देना होगा। जब शहरों में पूरी तरह से नेटवर्क सक्रिय हो जाएगा तब सीधे CNG स्टेशन से गैस पाइप लाइन को जोड़कर सप्लाई दी जाएगी।

Gas pipelines in Rajasthan | Rajasthan State Gas Limited | LPG gas connection | CM Ashok Gehlot | LPG Gas pipeline in Rajasthan | Rajasthan LPG Gas pipeline

ये भी पढ़े – 

…तो क्या बंद हो रहे 2000 के नोट?

डिजिटल भुगतान करने वालों के काम की खबर: 30 सितंबर से लागू होगे क्रेडिट-डेबिट कार्ड के नए नियम, जानिए अब कैसे होगा लेनदेन?

 DHFL Bank Fraud Case: अब तक का सबसे बड़ा बैंकिंग फ्रॉड, 34,615 करोड़ की धोखाधड़ी में CBI की कार्रवाई

HIT – The First Case: राजकुमार राव की जबरदस्त एक्टिंग के साथ इस सस्पेंस थ्रिलर फिल्म के कई सीन सिर घुमा देंगे

100 महिलाओं की लाशों से दुष्कर्म करने वाले हैवान को 34 साल बाद मिलेगी जुर्म की सजा

मृत्यु के बाद भी: ये कम्यूनिस्ट नेता आज भी सजे हैं मकबरों में, 100 साल पुराने इस राजा का लिंग भी संरक्षित‚  जानिए कैसे सहेजे जाते हैं अंग और शव

Was This Article Helpful?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *