माता-पिता सरोगेसी के बाद नवजात को नहीं अपना रहे, सरोगेट महिलाओं को जाना पड़ रहा सुप्रीम कोर्ट

माता पिता सरोगेसी के बाद नवजात को नहीं अपना रहे
Getty Images 

अमेरिका में तेजी से भागती जिंदगी के चलते सरोगेसी के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। सरोगेसी यहां एक बड़े बिजनेस का रूप ले चुका है। अमेरिका के सभी राज्यों में इसको लेकर विभिन्न कानून हैं। सरोगेसी को लेकर केंद्रीय कानून बनाने की मांग की जा रही है, क्योंकि ज्यादातर राज्यों में पेड सरोगेसी का नियम है, जिसे आसानी से तोड़ा जा रहा है। इसलिए अमेरिका की कुछ महिलाओं को सुप्रीम कोर्ट में अपील करनी पड़ती है।

सरोगेसी के समझाैते को बच्चा होने के बाद तोड़ रहे पेरेंट्स

ऐसा ही एक मामला कैलिफोर्निया निवासी मेलिसा कुक का है। एक व्यक्ति ने उन्हें एक निजी संस्थान का सरोगेट बनने के लिए तैयार किया। कुछ दिनों के बाद, वह समझौते से मुकर गया और बच्चों की पविरिश सहन करने में असमर्थता व्यक्त करने लगा। इसके चलते मेलिसा ने संबंधित संस्था और व्यक्ति के खिलाफ केस दर्ज कराया। मेलिसा अब तीन बच्चों की मां हैं, लेकिन कोई भी अपने बच्चों को गोद लेने को तैयार नहीं है।

अमेरिका में सरोगेसी से 18,400 बच्चे पैदा हुए
Getty Images 

अमेरिका में सरोगेसी से 18,400 बच्चे पैदा हुए, सेरोगेट बनने के लिए 22 से 45 लाख तक का भुगतान

सेंटर्स फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) का कहना है कि 1999 से 2013 के बीच सरोगेसी से 18,400 बच्चे पैदा हुए। सरोगेट बनने के लिए औसतन महिलाओं को 22 से 45 लाख रुपये का भुगतान किया जाता था। हालांकि एजेंट और वकील समेत अन्य खर्चों के साथ 83 से 110 करोड़ रुपये खर्च करने पड़ते हैं। न्यू जर्सी, वाशिंगटन और न्यूयॉर्क ने शुरू में सरोगेसी के कारोबार पर रोक लगा दी, लेकिन बाद में इसे वैध कर दिया।

यूरोप में सरोगेसी कमर्शियली बैन
Getty Images 

यूरोप में सरोगेसी कमर्शियली बैन, यूक्रेन में 20 परसेंट सेरोगेट महिलाए सैनिकों की पत्नियां

यूक्रेन पहले दुनियाभर में सरोगेसी के लिए प्रसिद्ध था, लेकिन रूस के साथ युद्ध के बाद, उन्नत चिकित्सा तकनीक और स्वस्थ दाताओं के कारण अमेरिका में सरोगेसी के मामले बढ़ गए हैं। इसलिए एक बेहतर कानून बनाने की मांग की जा रही है। बता दें कि एक व्यवसाय के तौर पर सरोगेसी अधिकांश यूरोपीय देशों में प्रतिबंधित है। एक शोध के अनुसार यूक्रेन में 15-20% सरोगेट महिलाएं सैनिकों की पत्नियां हैं।

Parents Refusing Surrogacy Child | Surrogacy | Surrogate Women Approaching Supreme Court | America | USA

Was This Article Helpful?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *