Britain Cabinet: भारतवंशी ऋषि सुनक बने ब्रिटेन के मिस्टर प्राइम मिनिस्टर: जानिए क्यों ब्रिटिश राजपरिवार से भी ज्यादा संपत्ति के मालिक हैं सुनक

Britain New Prime Minister Rishi Sunak
Getty Images

Britain New Prime Minister Rishi Sunak: 42 वर्षीय भारतीय मूल के ऋषि सुनक ब्रिटेन के नए प्रधानमंत्री बन गए हैं। मंगलवार को सनक बकिंघम पैलेस पहुंचे और किंग चार्ल्स से मिले। राजा ने उन्हें एक नियुक्ति पत्र सौंपा और नई सरकार बनाने के लिए कहा। राजा और सुनक की मुलाकात महल के कमरा नंबर 1844 में हुई। परंपरा के अनुसार सुनक निजी कार से बकिंघम पैलेस पहुंचे।

बकिंघम पैलेस से ऋषि प्रधानमंत्री की सरकारी कार से सरकारी आवास 10 डाउनिंग स्ट्रीट पहुंचे। उन्होंने यहां प्रधानमंत्री के तौर पर देश को अपना पहला संबोधन दिया। कहा- देश इस समय संकट में है। पूर्व पीएम लिज़ ट्रस ने कुछ गलतियां की हैं लेकिन अब हम उन्हें ठीक कर देंगे।

The King received The Rt Hon Rishi Sunak MP at Buckingham Palace today.

His Majesty asked him to form a new Administration. Mr. Sunak accepted His Majesty’s offer and was appointed Prime Minister and First Lord of the Treasury. pic.twitter.com/UnT3jMS8so

— The Royal Family (@RoyalFamily) October 25, 2022

देर रात सुनक कैबिनेट की तस्वीर साफ होने लगी। डोमिनिक रॉब, जो बोरिस जॉनसन सरकार में मंत्री थे, को उप प्रधानमंत्री और कानून मंत्री बनाया गया है। जेरेमी हंट, जो लिज़ ट्रस सरकार में वित्त मंत्री थे, को उसी पद पर बरकरार रखा गया है। 

बीबीसी के अनुसार- सुनक वित्त मंत्री की जगह निवेशकों को यह संदेश देना चाहते हैं कि चिंता करने की जरूरत नहीं है, सरकार की नीतियों पर भरोसा करें।

बेन वालेस रक्षा मंत्री बने रहेंगे। जेम्स क्लीवरली के साथ भारत का अधिक ताल्लुक रहेगा। जॉनसन के समर्थक जेम्स को विदेश मंत्री बनाया गया है।

I will unite our country, not with words, but with action.

I will work day in and day out to deliver for you.

Watch my speech from Downing Street 👇 pic.twitter.com/diOBuwBqXc

— Rishi Sunak (@RishiSunak) October 25, 2022

हमारी अर्थव्यवस्था मुश्किल समय में है…. सुनक

सुनक ने कहा- मैं अभी राजा से मिलने आया हूं। उन्होंने मुझसे नई सरकार बनाने को कहा है। आप जानते हैं कि हमारी अर्थव्यवस्था इस समय मुश्किल दौर में है। कोविड की वजह से पहले से ही दिक्कत थी। पुतिन ने यूक्रेन पर हमला कर हालात और खराब कर दिए हैं। 

पूर्व प्रधानमंत्री लिज़ ट्रस स्थिति में सुधार करना चाहती थीं, उन्होंने अथक परिश्रम किया, लेकिन गलतियाँ की। अब हम उन्हें ठीक कर देंगे। सुनक जब सरकारी आवास की ओर लौट रहे थे तो एक व्यक्ति ने ‘ऋषि आउट’ यानी ‘ऋषि जाओ’ के नारे लगाए।

देश को एकता के सूत्र में बांधूंगा

सुनक ने आगे कहा- मैं इस देश को फिर से एक कर करूंगा। ये मैं सिर्फ इतना ही नहीं कह रहा हूं, बल्कि करके भी दिखाऊंगा। मैं आपके लिए दिन-रात काम करूंगा। उन्होंने आगे कहा- 2019 में कंजरवेटिव पार्टी को समर्थन मिला। यह एक व्यक्ति के लिए नहीं था। स्वास्थ्य, सीमा सुरक्षा और सशस्त्र बलों के लिए काम किया जाएगा।

आज हमारे सामने कई चुनौतियां हैं। मैंने चांसलर के रूप में जो काम किया, उसे जारी रखूंगा। देश की जनता की भलाई को राजनीति से ऊपर रखना चाहिए। आपका खोया हुआ आत्मविश्वास वापस मिलेगा। रास्ता कठिन है, लेकिन हम दूरी तय करेंगे।

 ब्रिटेन के पहले भारतीय और गैर-श्वेत प्रधानमंत्री बने हैं सुनक

ऋषि सुनक ब्रिटेन के पहले भारतीय और गैर-श्वेत प्रधानमंत्री हैं। सुनक के ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बनने के साथ ही बॉलीवुड फिल्म अमर अकबर एंथनी का हैशटैग भी सोशल मीडिया पर ट्रेंड करने लगा है। दरअसल, सुनक हिंदू हैं, ब्रिटेन के मेयर सादिक खान मुस्लिम हैं और देश के राजा चार्ल्स-III ईसाई धर्म को मानते हैं। ऐसे में लोग तीनों को बॉलीवुड फिल्म के किरदार से जोड़कर देख रहे हैं।

किंग चार्ल्स और सुनक ने 31 मिनट की बातचीत की‚ पूर्व प्रधानमंत्री लिज़ ट्रस से महज 6 मिनट मिलीं थी क्वीन एलिज़ाबेथ

बीबीसी के मुताबिक, किंग चार्ल्स और सनक के बीच 31 मिनट की बातचीत हुई। इस मौके पर सुनक की पत्नी अक्षता भी उनके साथ थीं। महारानी एलिजाबेथ ने पूर्व प्रधानमंत्री लिज़ ट्रस से महज 6 मिनट के लिए मुलाकात की थी। बकिंघम पैलेस से ऋषि प्रधानमंत्री की सरकारी कार से सरकारी आवास 10 डाउनिंग स्ट्रीट पहुंचे। इसके कुछ समय बाद ही उन्होंने प्रधानमंत्री के तौर पर देश को अपना पहला संबोधन दिया।

It’s a special Diwali this year as the UK has its first Prime Minister of Indian origin. Congratulations @RishiSunak. pic.twitter.com/NLiiicm6wi

— Gita Gopinath (@GitaGopinath) October 25, 2022

किंग से मुलाकात के बाद लिज़ ट्रस ने इस्तिफा दिया

इससे पहले, पूर्व प्रधान मंत्री लिज़ ट्रस बकिंघम पैलेस पहुंचे और किंग चार्ल्स से मिले और उन्हें अपना इस्तीफा सौंप दिया। बकिंघम पैलेस पहुंचने से पहले ट्रस ने 1:30 बजे IST कैबिनेट मंत्रियों के साथ बैठक की। उन्होंने पीएम हाउस से आखिरी बार प्रधानमंत्री के रूप में देश को संबोधित भी किया। इस दौरान उन्होंने कहा- हमारी सरकार ने राजनीतिक संकट के बीच लोगों की मदद के लिए तत्काल कार्रवाई की।

नारायण मूर्ति के दामाद हैं ऋषि सुनक 

ऋषि भारतीय सॉफ्टवेयर कंपनी इंफोसिस के सह-संस्थापक नारायण मूर्ति के दामाद हैं। प्रधानमंत्री बनने पर मूर्ति ने कहा- साधु को बधाई। हमें उन पर गर्व है और हम उनकी सफलता की कामना करते हैं। हमें विश्वास है कि वह ब्रिटेन के लोगों के लिए ईमानदारी से काम करेंगे।

Britain New Prime Minister Rishi Sunak
ऋषि की पत्नी अक्षता मूर्ति हैं। दोनों की 2 बेटियां हैं, जिनका नाम कृष्णा और अनुष्का हैं। इनकी शादी साल 2009 में हुई थी।

ब्रिटेन की आर्थिक स्थिति को सुधारना सबसे बड़ी चुनौती

प्रधानमंत्री का पद संभालने के बाद सुनक को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा। सबसे कठिन चुनौती ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था में सुधार की होगी। ‘द गार्जियन’ की रिपोर्ट के अनुसार सुनक ने पार्टी सांसदों के साथ एक निजी मुलाकात के बाद बैठक में कहा- हमारे पास वो सभी समस्याएं हैं जो पहले थीं और अब आर्थिक संकट भी है। 

हम सब मिलकर इस संकट से बाहर निकलेंगे। हमें हर मोर्चे पर एकजुट होना होगा। मैं कंजरवेटिव पार्टी से प्यार करता हूं, इसकी सेवा करूंगा। देश को कुछ वापस देना मेरे जीवन का सबसे बड़ा सम्मान है। मैं वादा करता हूं कि मैं ईमानदारी से काम करूंगा।

  • ऋषि सुनक के माता-पिता पंजाब के रहने वाले थे, जो बाद में विदेश में बस गए थे।
  • सुनक का जन्म ब्रिटेन के हैम्पशायर में हुआ था। ऋषि ने अमेरिका की स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से MBA किया है।
  • सुनक ने ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से राजनीति, दर्शन और अर्थशास्त्र की पढ़ाई की है।
  • सुनक पहली बार 2015 में रिचमंड (यॉर्कशायर) निर्वाचन क्षेत्र से सांसद चुने गए थे और 2017 और 2019 में वहां से फिर से चुने गए थे।
  • जुलाई 2019 में, सुनक को जनवरी 2018 में स्थानीय सरकार के मंत्री के रूप में चुना गया और उसके बाद, वित्त विभाग के मुख्य सचिव के रूप में नियुक्त किया गया।
  • फरवरी 2020 में, उन्हें राजकोष का चांसलर नियुक्त किया गया। उन्हें इसी साल जुलाई तक इस पद पर कार्य करने का सौभाग्य प्राप्त हुआ।

ऋषि सुनक के दादा भारत छोड़ चुके थे

भारतीय ऋषि सनक के दादा का नाम रामदास सुनक और दादी का नाम सुहाग रानी सुनक था, दोनों जालंधर में रहते थे और एक बहुत ही शिक्षित परिवार से थे। 1935 में, राम दास सुनक को केन्या के नैरोबी शहर में क्लर्क की नौकरी मिल गई। उन्होंने जहाज के लिए एकतरफा टिकट बुक किया और अकेले केन्या के लिए रवाना हुए। साल 1937 में दादी भी केन्या पहुंचीं।
दोनों के 6 बच्चे हुए, जिनमें तीन बेटे और तीन बेटियां थीं, उन्हीं में से एक थे यशवीर सनक, जो ऋषि सुनक के पिता हैं। यशवीर सुनक का जन्म 1949 में नैरोबी में हुआ था। कुछ वर्षों के बाद राम दास, सुहाग रानी सहित पूरा परिवार ब्रिटेन में बस गया। 
ऋषि सनक के दादा राम दास भले ही भारत छोड़ गए हों, लेकिन उन्होंने इस देश से अपना रिश्ता पूरी तरह से नहीं तोड़ा। सुनक परिवार आज भी भारत को अपनी मातृभूमि मानता है।
ऋषि सुनक की मां उषा सनक और यशवीर सुनक की शादी 1977 में इंग्लैंड के लीसेस्टर शहर में हुई थी। खास बात यह है कि उषा सनक के पिता यानी ऋषि सनक के नाना भी भारत के पंजाब प्रांत से हैं।

सुनक का जन्म 1980 में हुआ था

ऋषि सुनक का जन्म 12 मई 1980 को साउथेम्प्टन जनरल अस्पताल में हुआ था। वह यशवीर और उषा सनक की पहली संतान हैं। इसके बाद 1982 में ऋषि के छोटे भाई संजय सनक का जन्म हुआ और आखिरकार 1985 में उनकी छोटी बहन राखी सुनक का जन्म हुआ। बच्चों की हर जरूरत को पूरा करने के लिए माता-पिता दिन-रात काम करते थे। ऋषि सुनक अपनी मां की दुकान में उनकी मदद करते थे।

सुनक को बचपन से ही मंदिर जाना पसंद है

ऋषि सुनक का जन्म एक हिंदू परिवार में हुआ था, इसलिए उन्हें बचपन से ही मंदिर जाने की आदत है। उन्हें साउथेम्प्टन में हिंदू वैदिक सोसाइटी मंदिर से बहुत लगाव है क्योंकि उनके दादा राम दास सुनक इस मंदिर के संस्थापक सदस्य थे। 
ऋषि सुनक अभी भी अक्सर लंदन से साउथेम्प्टन आते हैं, खासकर इस मंदिर के दर्शन के लिए। वे यहां सेवा कार्यों में भी हिस्सा लेते हैं। यहां रहने वाले लोग भारतीय मूल के लोगों के बीच ऊपर-नीचे होते हैं। उनके साथ उनकी पत्नी और बेटियां भी आती हैं।

ब्रिटेन में उनकी संपत्ति को लेकर विवाद था

ब्रिटिश राजनीति में तेजी से उभरने वाले ऋषि भी कुछ विवादों में घिरे रहे। खासकर उनकी संपत्ति को लेकर ब्रिटिश मीडिया में काफी हंगामा हुआ था। उनकी पत्नी अक्षता और उनकी संपत्ति करीब साढ़े सात करोड़ पाउंड यानी करीब साढ़े सात हजार करोड़ रुपये है। 
इसमें से अक्षता का बड़ा हिस्सा है क्योंकि उसके पास इंफोसिस में शेयर हैं। उनकी गिनती ब्रिटेन के सबसे अमीर लोगों में होती है। कहा जाता है कि उनकी संपत्ति ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ से भी ज्यादा है। एलिजाबेथ की संपत्ति करीब पांच हजार करोड़ रुपए है।
सुनक की जीत का एक बड़ा कारण उनकी बैंकर इमेज भी है। पीएम के रूप में ट्रस की विफलता का सबसे बड़ा कारण आर्थिक मोर्चे पर विफलता थी। ब्रिटेन में मुद्रास्फीति चुनाव का एक प्रमुख मुद्दा था। ब्रिटेन में आर्थिक अस्थिरता भी थी, जिसके बाद जॉनसन सरकार में वित्त मंत्री रह चुके सनक ने आर्थिक राहत योजना लाई, इसे मध्यम वर्ग ने काफी सराहा और लोगों के बीच उनकी लोकप्रियता बढ़ती गई।

जानिए आखिर कैसे सुनक जीत के करीब पहुंचे

सुनक को चुनौती देने वाली पेनी मोर्डोंट ने सोमवार 24 अक्टूबर को शाम करीब 6.30 बजे (भारतीय समयानुसार) अपना नाम वापस ले लिया। इससे पहले पूर्व प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने भी अपना नाम वापस ले लिया था। सुनक को करीब 200 सांसदों का समर्थन मिला था। पेनी के पास यह आंकड़ा केवल 26 था। सनक की जीत के बाद, पेनी मोर्डोंट पार्टी के सांसदों से मिले। कहा- मेरी चिंता मत करो। मैं पूरी तरह से ठीक हूं मैं नए प्रधानमंत्री को पूर्ण समर्थन का वादा करता हूं।
Britain New Prime Minister Rishi Sunak | Britain New Prime Minister | rishi sunak parents | rishi sunak wife | rishi sunak net worth | where is rishi sunak from originally | who is rishi sunak | all about rishi sunak | rishi sunak kaun hain | Akshata Murthy | Rishi Sunak Political Career | Rishi Sunak Education | prime minister | uk | suella braverman

ये भी पढे़ं   

जकार्ता में फुटबॉल मैच में 127 लोगों की मौत: हारी टीम के फैंस मैदान में घुसे, लाठीचार्ज के बाद भगदड़ से बिगड़े हालात

फोटो में देखें- ईरान में इस्लामी क्रांति से पहले स्कर्ट पहनने वाली लड़ंकियां फिर हिजाब उतारने को क्यों मजबूर‚ जानिए मुद्दा कैसे सुलगा

 Queen Elizabeth II Died: ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ का स्कॉटलैंड के बाल्मोरल कैसल में निधनः 96 वर्ष की उम्र में ली अंतिम सांस

 NASA Moon Mission Artemis- I: नासा मून मिशन की आर्टेमिस-1 लॉन्च का दूसरा प्रयास भी विफल‚ 50 साल बाद चांद पर उतरने की पूरी तैयारी समझिए

Salman Rushdie Attacked: सैटेनिक वर्सेज के लेखक सलमान रुश्दी पर जानलेवा हमलाः जानें क्यों हमेशा विवादों में रहे

Ayman al Zawahiri Killed:  काबुल में  Ninja मिसाइलों ने उड़ाए 20 करोड़ इनामी जवाहिरी के परखच्‍चे

घर में नौकर के काम से मालकिन इतना इंप्रेस हुई कि इश्क हो गया और रचा ली शादीǃ  

जिगरी दोस्त और गूगल के को-फाउंडर Sergey Brin की वाइफ से इश्क कीमत यूं चुकाएंगे Elon Musk

 लंका बदहाल, नेता मालामाल: श्रीलंका के राष्ट्रपति आवास में मिले नोटों के बंडल, Video Viral- प्रदर्शनकारियों ने पूरे पैसे सेना को सौंपे

इंडिया-पाक की ये दो लेस्बियन लड़कियां बन रहीं औरों के लिए प्रेरणाः ऐसे की थी दोनों ने शादी, लवस्टोरी वायरल

डोनाल्ड ट्रंप की पहली पत्नी IvanaTrump की मौत:20 साल छोटे मॉडल से चौथी शादी की, हमेशा अपने बयानों से सुर्खियों में रहीं

युवती को बॉयफ्रेंड के सामने फार्ट रोकना पड़ा महंगा, जानिए क्यों होती हैं ये समस्या और क्या है सॉल्यूशन

 Baba Vanga Predictions :  कौन थी बाबा वेंगा जिनकी दो भविष्यवाणी 2022 में सत्य हो रही

Was This Article Helpful?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *